हिमालय में कैलाश पर बैठे मां पार्वती और शिव की महिमा का किया वर्णन

Banswara News - श्री आदर्श गायत्री प्रदोष परिषद की ओर से स्वर्ण जयंती के उपलक्ष्य में छींच में आयोजित दिव्य शिवकथा के तहत पांचवें...

Jan 16, 2020, 07:50 AM IST
Chinch News - rajasthan news described the glory of maa parvati and shiva sitting on kailash in the himalayas
श्री आदर्श गायत्री प्रदोष परिषद की ओर से स्वर्ण जयंती के उपलक्ष्य में छींच में आयोजित दिव्य शिवकथा के तहत पांचवें दिन बुधवार को बड़ौदा की कथा वाचिका विदुषी डॉ. गार्गी चंद्रशेखर पंडित ने भगवान शिव के हिमालय में कैलाश पर बैठे मां पार्वती एवं शिव की महिमा पर वर्णन करते हुए कहा कि मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम सबसे बड़ी आराधना किसी करते थे तो वो भगवान शिव की आराधना अनुष्ठान करते थे।

कथा में बताया कि जब श्री कृष्ण भगवान ने शिवविद्याओं, मांत्रिक विद्याओं आदि का जब मार्गदर्शन हुआ तो भगवान श्री कृष्ण द्वारिकाधीश ने स्वयं हिमालय पर्वत पर जाकर भगवान शिव की कठोर आराधना की। उनकी इस भक्ति को देख कर महर्षि व्यास ने कहा कि स्वयं कृष्ण ने शिवजी की आराधना की है। देवी-देवताओं से लेकर मानव भगवान शिव की पूजा करता है। उन्होंने बताया कि जो मनुष्य शिव की आराधना से वंचित रहता है उसका जीवन व्यर्थ रहता है, इसी के साथ कहा कि रामचरितमानस में तुलसीदासजी को श्रीराम अत्यंत प्रिय थे, उन्होंने श्रीराम की महिमा का गुणगान किया। लेकिन शिव महिमा को भी कम नहीं होने दिया, क्योंकि भगवान शिव को श्रीराम और श्रीकृष्ण दोनों ही प्रिय थे। दोनों के जन्म के समय भगवान शिव वेश बदलकर दोनों के दर्शन करने के लिए स्वयं आए थे। साथ ही संत गिरि बापू ने बताया कि जो व्यक्ति अनिद्रा से ग्रसित है उसे उसके समाधान के लिए प्रातरू धूप में बैठना चाहिए। सूर्य नमस्कार करने के साथ ही सूर्य भगवान को जल अर्पित करना चाहिए। सूर्य देव का प्रकाश अनिद्रा के लिए अचूक औषधि का कार्य करता है। कथा से पूर्व मधुसूदन जोशी, वालेंग भाई, प्रेमजी भाई, भारता भाई, जगन्नाथ शाह, त्रयंबकेश्वर शाह, नाथजी भाई आदि ने पौथी पूजन किया। मनकामेश्वर मंदिर प्रांगण में गायत्री याग, महारुद्र पूजन के दौरान भरत पुरोहित, भूपेंद्र दवे, रणछोड़ सोलंकी, भरत मसानी, रूपेंग पटेल, परमेश्वर मेहता आदि ने आहुतियां प्रदान की।

गार्गी चंद्रशेखर पंडित

गार्गी चंद्रशेखर पंडित

छींच. श्री आदर्श गायत्री प्रदोष परिषद की ओर से छाजा में शिव कथा के दौरान मौजूद श्रद्धालु।

Chinch News - rajasthan news described the glory of maa parvati and shiva sitting on kailash in the himalayas
Chinch News - rajasthan news described the glory of maa parvati and shiva sitting on kailash in the himalayas
X
Chinch News - rajasthan news described the glory of maa parvati and shiva sitting on kailash in the himalayas
Chinch News - rajasthan news described the glory of maa parvati and shiva sitting on kailash in the himalayas
Chinch News - rajasthan news described the glory of maa parvati and shiva sitting on kailash in the himalayas
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना