कलाल समाज ने सात दूल्हों काे दिया हेलमेट, ताकि समझें जीवन का महत्व

Banswara News - गनोड़ा. मोटागांव में मेवाड़ा कलाल समाज के 13वें सामूहिक विवाह में हेलमेट लिए बैठी दुल्हनें और दूल्हे। भास्कर...

Dec 04, 2019, 11:30 AM IST
Partapur News - rajasthan news kalal society gave helmets to seven grooms so that they understand the importance of life
गनोड़ा. मोटागांव में मेवाड़ा कलाल समाज के 13वें सामूहिक विवाह में हेलमेट लिए बैठी दुल्हनें और दूल्हे।

भास्कर संवाददाता|गनोड़ा

मोटागांव में बुधवार को मेवाड़ा कलाल समाज का 13वां सामूहिक विवाह सम्मेलन हुआ। समारोह में 7 जोड़ों ने अपने-अपने जीवन साथी के साथ अग्नि को साक्षी रखकर विवाह की रस्में पूरी की। कार्यक्रम में समाज के करीब 7 हजार लोग शामिल हुए। जिसमें बांसवाड़ा के अलावा डूंगरपुर, प्रतापगढ़, मध्य प्रदेश और गुजरात से मेवाड़ा कलाल समाज के लोगों ने भाग लिया। समाज के इस विवाह सम्मेलन में सभी दूल्हों को हेलमेट भेंट किया गया, ताकि जीवन कितना अनमोल है यह संदेश समाज केे लोगों को मिल सके। इसके अलावा पर्यावरण संरक्षण को लेकर समाज में जागरूकता के लिए सामूहिक विवाह समारोह में भाग लेने के लिए पहुंचे सभी लोगों को कपड़े से बनी थैली भी वितरित की गई। समारोह में अन्नदान कन्हैयालाल छगन कलाल मोटा गांव एवं प्रकाश कलाल सरेड़ी ने किया। इसके अलावा विवाह समारोह में विवाह कर रहे सभी 7 जोड़ों के लिए अलमारी मोहनलाल किशन भीमसोर, गैस चूल्हा कांतिलाल रूपचंद गोपीनाथ का गड़ा, किचन सेट खेमचंद किशनलाल कलाल मोटागांव, दुल्हन के परिधान बंसी लाल मंगल भीमपुर, पायजेब जयेश भगवानलाल कलाल, सूटकेस मोहनलाल मंगल रैयाना, कंबल राकेश नाथूजी मोटा गांव एवं ड्रोन से पुष्प वर्षा राजेश गोकुल आसन द्वारा कराई गई। कार्यक्रम में जिलाध्यक्ष हरिश्चंद्र कलाल सेनावासा, संयोजक हिम्मत लाल पटेल, उपाध्यक्ष मोहनलाल कलाल आनंदपुरी, महामंत्री सूरजमल नरवाली, महामंत्री मुकेश पटेल भरड़ाजाल, सचिव प्रदीप कलाल दौलत सिंह का गड़ा, कोषाध्यक्ष बाबूलाल कलाल आनंदपुरी, पोपटलाल कलाल रैयाना, राजूभाई कलाल आसन एवं सभी गांवों के पंचों एवं विशेषकर मोटा गांव के रीगल ग्रुप ने इस कार्यक्रम को सफल बनाने में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया।

5 साल में करवाए 13 सामूहिक विवाह

मेवाड़ा कलाल समाज ने पांच साल में करवाए 13 सामूहिक विवाह सम्मेलन करवाए हैं। समाज के जिलाध्यक्ष हरीश कलाल ने बताया कि पहला सामूहिक विवाह समारोह परतापुर-गढ़ी में 3 दिसंबर 2014 को हुआ था, जिसमें 15 जोड़ों ने एक हुए थे। अगला सामूहिक विवाह समारोह 25 फरवरी 2020 को होगा। जिसके लिए अभी से ही 12 जोड़ों का पंजीयन हो चुका है।

X
Partapur News - rajasthan news kalal society gave helmets to seven grooms so that they understand the importance of life
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना