रामलीला में रावण से युद्ध में लक्ष्मण मूर्छित, हनुमान लाए संजीवनी बूटी

Banswara News - श्री धर्म प्रचारक रामायण रामलीला मंडल काशी विंध्याचल की ओर से हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी शिव हनुमान मंदिर परिसर में...

Feb 18, 2020, 07:00 AM IST
Banswara News - rajasthan news laxman fainted in battle with ravana in ramlila hanuman brought sanjeevani booti

श्री धर्म प्रचारक रामायण रामलीला मंडल काशी विंध्याचल की ओर से हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी शिव हनुमान मंदिर परिसर में रामलीला का मंचन किया जा रहा है। नवें दिन भगवान श्रीराम ने लंका में रावण के साथ युद्ध शुरू कर देते हैं। युद्ध के दौरान लक्ष्मण और इंद्रजीत, मेघनाथ का महासंग्राम होता है। जिसमें इंद्रजीत द्वारा ब्रह्मा शक्ति का प्रयोग करने से लक्ष्मण मूर्छित हो जाते हैं। इसके बाद हनुमान ने लक्ष्मण को उठाकर प्रभु श्री रामचंद्र जी के गोद में बिठाते हैं। प्रभु श्री रामचंद्र जी भैया लक्ष्मण को देखकर विलाप करने लगते हैं। साथ ही उस दौरान लक्ष्मण के चारों तरफ बैठे बंदरों के भी आंखों में आंसू बहने लगते हैं। इसके बाद हनुमानजी लंका में जाकर सुसेन नाम वैद्य को लाते हैं। वैद्यजी कहते है कि धोलागिरि पर्वत से संजीवनी बूटी लाकर लक्ष्मणजी को सुंघाने से स्वस्थ हो जाएंगे। इस पर हनुमानजी वहां जाते हैं तो रास्ते में कालनेमि राक्षस उनका रास्ता रोकते हैं, हनुमानजी उस राक्षस का वध कर पूरा धोलागिरि पर्वत ही उठा लाते हैं। रास्ते में भरतजी हनुमान जी को बाण मारकर घायल कर देते हैं। इसके बाद भरत जी हनुमान जी के पास जाकर कहते हैं अगर तुम प्रभु श्रीराम के भक्त हो तो उनकी सौगंध है। उठकर बैठ जाओ। हनुमानजी संजीवनी बूटी लक्ष्मण के पास लेकर आते हैं और लक्ष्मणजी को नया जीवन देते हैं।

बैठे बंदरों के भी आंखों में आंसू बहने लगते हैं। इसके बाद हनुमानजी लंका में जाकर सुसेन नाम वैद्य को लाते हैं। वैद्यजी कहते है कि धोलागिरि पर्वत से संजीवनी बूटी लाकर लक्ष्मणजी को सुंघाने से स्वस्थ हो जाएंगे। इस पर हनुमानजी वहां जाते हैं तो रास्ते में कालनेमि राक्षस उनका रास्ता रोकते हैं, हनुमानजी उस राक्षस का वध कर पूरा धोलागिरि पर्वत ही उठा लाते हैं। रास्ते में भरतजी हनुमान जी को बाण मारकर घायल कर देते हैं। इसके बाद भरत जी हनुमान जी के पास जाकर कहते हैं अगर तुम प्रभु श्रीराम के भक्त हो तो उनकी सौगंध है। उठकर बैठ जाओ। हनुमानजी संजीवनी बूटी लक्ष्मण के पास लेकर आते हैं और लक्ष्मणजी को नया जीवन देते हैं।

धर्म समाज संस्था**

रामलीला के मंचन में मूर्छित हुए लक्ष्मण अपने बड़े भाई राम की गोद में सोए।

X
Banswara News - rajasthan news laxman fainted in battle with ravana in ramlila hanuman brought sanjeevani booti

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना