इंजीनियरिंग काॅलेजाें में एमअारअाई, सीटी स्कैन एवं मेडिकल मशीनाें की पढ़ाई हाेगी

Banswara News - जयपुर| जनजातीय क्षेत्र के राजकीय इंजीनियरिंग कॉलेज बांसवाड़ा में जनजातीय छात्रों को प्रवेश के समय शुल्क की...

Sep 14, 2019, 07:06 AM IST
जयपुर| जनजातीय क्षेत्र के राजकीय इंजीनियरिंग कॉलेज बांसवाड़ा में जनजातीय छात्रों को प्रवेश के समय शुल्क की बाध्यता नहीं होगी। जनजाति विभाग द्वारा प्रवेश के पश्चात शुल्क पुनर्भरण कराया जाएगा। इंजीनियरिंग काॅलेजाें में एमअारअाई, सीटी स्केन एवं मेडिकल मशीनों का अध्ययन शुरु कराया जाएगा।

इसकी पुष्टि तकनीकी शिक्षा राज्यमंत्री डॉ. सुभाष गर्ग ने की। डॉ. गर्ग शुक्रवार को तकनीकी शिक्षा भवन में 11 राजकीय इंजीनियरिंग कॉलेजों के बोर्ड ऑफ गवर्नर्स की 10वीं बैठक को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने निर्देश दिये कि इन सभी कॉलेजों में छात्र-छात्राओं के दाखिलों के आधार पर कार्यभार की समीक्षा की जाए। उन्होंने कहा कि जिन राजकीय इंजीनियरिंग कॉलेजों में सीसीटीवी सर्विलांस की व्यवस्था अब तक नहीं हो पाई है, वहां इसे तत्काल शुरू किया जाए और इस सर्विलांस सिस्टम को संयुक्त शासन सचिव तकनीकी शिक्षा के मोबाइल से जोडा जाए। तकनीकी शिक्षा राज्य मंत्री ने कहा कि इन कॉलेजों में डिग्री कोर्सेज के साथ-साथ वैल्यू एडेड कोर्स और लेंग्वेज लैब भी शुरू किए जाए ताकि छात्र अकादमिक रूप से सक्षम होने के साथ-साथ एड-ऑन स्किल्स से भी लैस हो सकें। बैठक में सचिव उच्च एवं तकनीकी शिक्षा वैभव गालरिया एवं इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंसेज बैंगलुरू के प्रोफेसर डॉ. एन.सी. शिव प्रकाश सहित बीओजी के पदाधिकारी एवं सदस्यगण तथा तकनीकी शिक्षा विभाग के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।।

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना