परतापुर-डडूका में सिद्धचक्र महामंडल विधान में श्रीजी को 128 अर्घ्य अर्पित

Banswara News - परतापुर| आदिनाथ कॉलोनी में अष्टान्हिका पर्व के अंतर्गत सिद्धचक्र महामंडल विधान में शनिवार को पंकज मोहनलाल...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 10:15 AM IST
Partapur News - rajasthan news siddhachakra mahamandal in peratapura dadocha presented 128 consecrations to shreeji
परतापुर| आदिनाथ कॉलोनी में अष्टान्हिका पर्व के अंतर्गत सिद्धचक्र महामंडल विधान में शनिवार को पंकज मोहनलाल पिंडारमिया परिवार द्वारा 128 अर्घ्य अर्पित किए गए। पंडित शैलेंद्र शास्त्री के मंत्रोच्चार के साथ वृहत शांतिधारा मनीष केसरीमल बोरी, नीलम पिंडारमिया, मिनाक्षी द्वारा कलश स्थापना की गई। विधान में सौधर्म इंद्र दिलीप पिंडारमिया परिवार, कुबेर इंद्र पुष्पेंद्र सवोत, यज्ञनायक मनीष पिंडारमिया, मंगलदीप दिलीप पिंडारमिया, राजेश पिंडारमिया, गीता जयंतीलाल पिंडारमिया, मैना केसरीमल पिंडारमिया, शांतिदेवी लक्ष्मी लाल पिंडारमिया, अशोक बी शाह, अनिल शाह परिवार ने अर्घ्य अर्पित किए। रात्र में बच्चों की पाठशाला द्वारा रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुतियां दी गई। डडूका में अष्टान्हिका पर्व में जारी सिद्धचक्र महामंडल विधान के 5वें दिन शनिवार को सुबह पार्श्वनाथ भगवान का जलाभिषेक धवल धनपाल सेठ परिवार ने किया। दोपहर सिद्धचक्र में श्रीजी का जलाभिषेक मासूम, पर्व, दिव्यांश ने किया। भक्ति रस में सराबोर भक्तो का उत्साह देखते ही बनता था। रात को पंडित वरुण भैया ने क्षमा पर मार्मिक प्रवचन दिए। उन्होंने क्षमा व उत्तम क्षमा में अंतर बताते हुए कहा कि किसी से डर के हम जब किसी को क्षमा करते हैं तो यह असली क्षमा नहीं है। अपने से कमजोर को क्षमा करके दिखाए तभी कुछ बात है। बोली संचालन राजेन्द्र कोठिया ने किया। वस्तुपाल शाह एवं राकेश शाह ने आभार जताया।

परतापुर आदिनाथ मंदिर में हुए विधान में पूजन करते जैन श्रद्धालु।

परतापुर| आदिनाथ कॉलोनी में अष्टान्हिका पर्व के अंतर्गत सिद्धचक्र महामंडल विधान में शनिवार को पंकज मोहनलाल पिंडारमिया परिवार द्वारा 128 अर्घ्य अर्पित किए गए। पंडित शैलेंद्र शास्त्री के मंत्रोच्चार के साथ वृहत शांतिधारा मनीष केसरीमल बोरी, नीलम पिंडारमिया, मिनाक्षी द्वारा कलश स्थापना की गई। विधान में सौधर्म इंद्र दिलीप पिंडारमिया परिवार, कुबेर इंद्र पुष्पेंद्र सवोत, यज्ञनायक मनीष पिंडारमिया, मंगलदीप दिलीप पिंडारमिया, राजेश पिंडारमिया, गीता जयंतीलाल पिंडारमिया, मैना केसरीमल पिंडारमिया, शांतिदेवी लक्ष्मी लाल पिंडारमिया, अशोक बी शाह, अनिल शाह परिवार ने अर्घ्य अर्पित किए। रात्र में बच्चों की पाठशाला द्वारा रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुतियां दी गई। डडूका में अष्टान्हिका पर्व में जारी सिद्धचक्र महामंडल विधान के 5वें दिन शनिवार को सुबह पार्श्वनाथ भगवान का जलाभिषेक धवल धनपाल सेठ परिवार ने किया। दोपहर सिद्धचक्र में श्रीजी का जलाभिषेक मासूम, पर्व, दिव्यांश ने किया। भक्ति रस में सराबोर भक्तो का उत्साह देखते ही बनता था। रात को पंडित वरुण भैया ने क्षमा पर मार्मिक प्रवचन दिए। उन्होंने क्षमा व उत्तम क्षमा में अंतर बताते हुए कहा कि किसी से डर के हम जब किसी को क्षमा करते हैं तो यह असली क्षमा नहीं है। अपने से कमजोर को क्षमा करके दिखाए तभी कुछ बात है। बोली संचालन राजेन्द्र कोठिया ने किया। वस्तुपाल शाह एवं राकेश शाह ने आभार जताया।

X
Partapur News - rajasthan news siddhachakra mahamandal in peratapura dadocha presented 128 consecrations to shreeji
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना