--Advertisement--

छीपाबड़ौद, किशनगंज और बारां में हत्या

बारां| छीपाबड़ौद कस्बे में शुक्रवार सुबह करीब 7 बजे युवक ने पड़ोसी महिला को अपने घर बुलाया। संबंध बनाने के लिए उस पर...

Danik Bhaskar | Mar 04, 2018, 02:00 AM IST
बारां| छीपाबड़ौद कस्बे में शुक्रवार सुबह करीब 7 बजे युवक ने पड़ोसी महिला को अपने घर बुलाया। संबंध बनाने के लिए उस पर दबाव डाला। महिला नहीं मानी तो केरोसीन डालकर जला दिया। इस दौरान युवक ने महिला के पति को कमरे में बंद कर दिया। शुक्रवार रात को कोटा में उपचार के दौरान महिला की मौत हो गई। घटना के बाद आरोपी फरार हो गया। शनिवार को दूसरे दिन भी पुलिस आरोपी को नहीं पकड़ सकी।

थाना प्रभारी रतन सिंह भाटी ने बताया कि छीपाबड़ौद के कोली मोहल्ला निवासी रीना (30) और उसका पति महेश कोली पिछले 10 साल से सती मोहल्ला निवासी मतिउद्दीन के मकान में किराए पर रहते थे। उसी मकान में मार्बल का कारीगर यूपी निवासी रामभरण यादव भी रहता था। शुक्रवार सुबह रामभरण ने विवाहिता को कमरे में बुलाया। महिला के कमरे में बाहर से कुंदी लगा दी, ताकि उसका पति बाहर नहीं आए। युवक ने संबंध बनाने के लिए महिला पर दबाव डाला। उसने इनकार कर दिया तो रामभरण ने केरोसीन डालकर उसे जला दिया। विवाहिता की चीख सुनकर लोग दौड़े तो आरोपी फरार हो गया। जानकारी मिलने पर कोली मोहल्ले से विवाहिता का भतीजा आया और पुलिस को सूचना दी।

बारां. हत्या के बाद घटनास्थल का मुआयना करती पुलिस।

बारां. हत्या के बाद घटनास्थल का मुआयना करती पुलिस।

महिला ने युवक के खिलाफ दिए बयान

एसडीएम व पुलिस को विवाहिता ने मरने से पहले अपने बयान में कहा था कि रामभरण उसे संबंध बनाने के लिए दबाव बना रहा था। इनकार करने पर जान से मारने की धमकी दी। फिर भी नहीं मानी तो केरोसीन डालकर जला दिया। इस संबंध में थानाप्रभारी भाटी ने बताया कि दोनों ही लंबे समय से किराए के एक ही मकान में रहते थे, लेकिन प्रेम प्रसंग का मामला बयान में नहीं आया है। आरोपी से पूछताछ में कुछ नई जानकारी मिल सकती है।

बारां| छीपाबड़ौद कस्बे में शुक्रवार सुबह करीब 7 बजे युवक ने पड़ोसी महिला को अपने घर बुलाया। संबंध बनाने के लिए उस पर दबाव डाला। महिला नहीं मानी तो केरोसीन डालकर जला दिया। इस दौरान युवक ने महिला के पति को कमरे में बंद कर दिया। शुक्रवार रात को कोटा में उपचार के दौरान महिला की मौत हो गई। घटना के बाद आरोपी फरार हो गया। शनिवार को दूसरे दिन भी पुलिस आरोपी को नहीं पकड़ सकी।

थाना प्रभारी रतन सिंह भाटी ने बताया कि छीपाबड़ौद के कोली मोहल्ला निवासी रीना (30) और उसका पति महेश कोली पिछले 10 साल से सती मोहल्ला निवासी मतिउद्दीन के मकान में किराए पर रहते थे। उसी मकान में मार्बल का कारीगर यूपी निवासी रामभरण यादव भी रहता था। शुक्रवार सुबह रामभरण ने विवाहिता को कमरे में बुलाया। महिला के कमरे में बाहर से कुंदी लगा दी, ताकि उसका पति बाहर नहीं आए। युवक ने संबंध बनाने के लिए महिला पर दबाव डाला। उसने इनकार कर दिया तो रामभरण ने केरोसीन डालकर उसे जला दिया। विवाहिता की चीख सुनकर लोग दौड़े तो आरोपी फरार हो गया। जानकारी मिलने पर कोली मोहल्ले से विवाहिता का भतीजा आया और पुलिस को सूचना दी।