बारां

--Advertisement--

ईसीजी मशीन खराब, जांच के लिए भटक रहे मरीज

राजकीय जिला चिकित्सालय में ईसीजी मशीन खराब होने से मरीजों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। जिले के दूरदराज के...

Danik Bhaskar

Mar 04, 2018, 02:00 AM IST
राजकीय जिला चिकित्सालय में ईसीजी मशीन खराब होने से मरीजों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। जिले के दूरदराज के कस्बों व गांवों से यहां पहुंचने वाले मरीजों के परिजनों को जांच के लिए भटकना पड़ता है। मजबूरी में उन्हें बाहर महंगी दर पर जांच करानी पड़ती है। इस संबंध में शनिवार को किसान कांग्रेस जिलाध्यक्ष रमेश मीणा ने पीएमओ से शिकायत की है।

मीणा ने बताया कि शनिवार को बाल्दा निवासी तेजकरण अहेड़ी की तबीयत बिगड़ने पर केलवाड़ा अस्पताल लेकर गए, वहां सीने में दर्द होने से ईसीजी कराने की सलाह दी। परिजनों ने उसे जिला अस्पताल इमरजेंसी में भर्ती कराया। यहां ईसीजी कक्ष में संपर्क किया, तो कर्मचारी ने मशीन खराब होने की बात कही। इस बीच तबीयत अधिक बिगड़ने पर उसे चिकित्सकों ने कोटा रैफर कर दिया। परिजनों को मजबूरन अस्पताल से बाहर ईसीजी करानी पड़ी। मीणा ने बताया कि पीएमओ से मशीन सही कराने की मांग की गई।

बारां. जिला अस्पताल में में भर्ती मरीज।

इधर, अस्पताल में केंटीन शुरू, मरीजों व तीमारदारों को मिलेगी सुविधा

बारां| जिला अस्पताल में आने वाले मरीजों व उनके तीमारदारों की सुविधा के लिए करीब 16 लाख की लागत से बनाए गए केंटीन भवन का शनिवार को शुभारंभ हो गया है। शनिवार को पीएमओ डॉ. संपतराज नागर ने समारोहपूर्वक कैंटीन का शुभारंभ किया। इस दौरान पीएमओ नागर ने कहा कि केंटीन का निर्माण करीब 16 लाख की राशि खर्च कर अस्पताल प्रशासन की आेर से करवाया गया है। इसको एक साल के लिए 8 लाख रुपए में निजी फर्म को संचालित करने के लिए दिया गया है। ऐसे में यहां पर आने वाले मरीजों व तीमारदारों को अस्पताल परिसर के अंदर ही गुणवत्तापूर्ण खाद्य सामाग्री मिले इसके लिए कैंटीन संचालक को भी पाबंद किया गया है। इस दौरान कैंटीन के शुभारंभ के बाद बड़ी संख्या में कैंटीन में आए मरीज व तीमारदारों का कहना था कि रात के समय में खासकर महिला मरीज को अस्पताल के बाहर जाने में दिक्कत होती है। अब अस्पताल परिसर के अंदर ही कैंटीन पर चाय के साथ अन्य खाद्य सामाग्री मिलने से मरीजों व तीमारदारों को अस्पताल के बाहर नहीं जाना पड़ेगा। वहीं इससे अस्पताल प्रशासन को भी आय मिलने से अस्पताल के विकास में राशि खर्च हो सकेगी।

बारां. जिला अस्पताल में शुरू की गई कैंटीन।

Click to listen..