Hindi News »Rajasthan »Baran» जान जोखिम में डाल रेलवे पटरी पार करके ला रहे पानी

जान जोखिम में डाल रेलवे पटरी पार करके ला रहे पानी

बारां| वार्ड नंबर 22 राजीव गांधी कॉलोनी तेल फैक्ट्री व रामनगर कॉलोनी के लोगों ने वार्ड पार्षद के नेतृत्व में...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 01, 2018, 02:05 AM IST

जान जोखिम में डाल रेलवे पटरी पार करके ला रहे पानी
बारां| वार्ड नंबर 22 राजीव गांधी कॉलोनी तेल फैक्ट्री व रामनगर कॉलोनी के लोगों ने वार्ड पार्षद के नेतृत्व में कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा है। ज्ञापन में पार्षद शीला पोटर ने बताया कि कॉलोनियों में जलदाय विभाग ने पानी के लिए पाइप लाइन नहीं बिछाई है। जलदाय विभाग एक्सईएन व एसई से मांग की जा चुकी है। संपर्क पोर्टल पर भी ऑनलाइन दो बार परेशानी दर्ज करा चुके हैं। इसके बावजूद जलदाय विभाग की ओर से समस्या का समाधान नहीं किया जा रहा है। लोग 25 साल से ट्यूबवैल का पानी पी रहे हैं। इस साल भूजलस्तर नीचे जाने से सभी मोटरें बंद हो गई हैं। नगर परिषद में शिकायत करने पर जलदाय विभाग का मामला बताया जा रहा है। कॉलोनी के लोग जान जोखिम में डालकर रेलवे पटरी पारकर लंका कॉलोनी स्थित हैंडपंप से पानी लाने को मजबूर हैं। समस्या का समाधान नहीं होने पर आंदोलन की चेतावनी दी है। ज्ञापन देने वालों में ममताबाई, मोहनलाल शर्मा, जानकीलाल प्रजापति, महावीर पोटर, रामजानकीबाई यादव, कस्तूरीबाई, गीताबाई ऐरवाल, नवरंग ऐरवाल, मदनी ऐरवाल, मूर्तिबाई योगी, धारा सिंह आदि शामिल थे।

हैंडपंप में रिस रहे गंदे पानी को पीने की मजबूरी

फतेहपुर| सरकार आमजन को शुद्ध पानी उपलब्ध कराने के लिए करोड़ाें रुपए की योजनाएं चला रही है। वहीं कस्बे में लगे सरकारी हैंडपंपों की मरम्मत नहीं होने से नालियों का गंदा पानी इनमें रिस रहा है, लेकिन इस ओर किसी का ध्यान नहीं होने से लोगों को दूषित पानी पीने को मजबूर होना पड़ रहा है। ज्यादा खराब हालात उन हैंडपंपों की है, जिनमें लोगों ने कब्जा कर निजी मोटर डाल रखी है। जिन पर लोगों का कब्जा बताकर ग्राम पंचायत रखरखाव नहीं करवा रही है। एेसे करीब एक दर्जन हैंडपंप हैं, जिनमें लोगों ने निजी मोटर डाल रखी है। इनके अलावा दर्जनभर ऐसे हैंडपंप भी हैं, जिनमें मोटर तो नहीं डली है, लेकिन हैंडपंप टूटे हुए हैं। इनकी भी मरम्मत नहीं होने के कारण गंदा पानी इनमें रिस रहा है। ग्राम पंचायत सचिव नवलकिशोर शर्मा ने बताया कि जिन हैंडपंपों में लोगों ने मोटर डाल रखी है। उनके रखरखाव की जिम्मेदारी भी उन्हीं की है। फिर भी जहां हैंडपंप क्षतिग्रस्त हैं, उनको प्लान में लेकर मरम्मत कराई जाएगी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Baran News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: जान जोखिम में डाल रेलवे पटरी पार करके ला रहे पानी
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Baran

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×