Hindi News »Rajasthan »Baran» जिला अस्पताल में 10 साल के अनुबंध पर आईवीएफ केंद्र शुरू

जिला अस्पताल में 10 साल के अनुबंध पर आईवीएफ केंद्र शुरू

जिले के लोगों के लिए एक खुशखबरी है। यहां के जिला अस्पताल में महिलाओं के लिए कृत्रिम गर्भाधान की सुविधा शनिवार से...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 01, 2018, 02:05 AM IST

जिला अस्पताल में 10 साल के अनुबंध पर आईवीएफ केंद्र शुरू
जिले के लोगों के लिए एक खुशखबरी है। यहां के जिला अस्पताल में महिलाओं के लिए कृत्रिम गर्भाधान की सुविधा शनिवार से शुरू हो गई है। राज्य सरकार व जिला अस्पताल ने कोटा के अर्शी इनफर्टिलिटी हॉस्पिटल से 10 साल का अनुबंध होने के बाद इसका शनिवार को शुभारंभ किया गया।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि वरिष्ठजन बोर्ड के अध्यक्ष प्रेमनारायण गालव थे। उन्होंने कहा कि जिला मुख्यालय पर इस प्रकार की सुविधा निसंतान दंपती को मिलने से उन्हें इलाज के लिए कोटा व जयपुर नहीं जाना पड़ेगा। इस दौरान अतिथि के रूप में हज कमेटी के चेयरमैन आमीन पठान, भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के डाॅ. मजीद मलिक, जिला प्रमुख नंदलाल सुमन, भाजपा जिलाध्यक्ष राजेंद्र नागर, विधायक रामपाल मेघवाल, ललित मीणा, सीएमएचओ डॉ. बृजेश गोयल, पीएमओ डाॅ. संपतराज नागर आदि मौजूद थे। अतिथियों का आईवीएफ सेंटर संचालक डॉ. अर्शी इकबाल, डाॅ. मोहम्मद इकबाल, मोहम्मद वकील शेख आदि ने स्वागत किया। पत्रकारों से चर्चा के दौरान आईवीएफ सेंटर की प्रबंधक डॉ. अर्शी इकबाल ने बताया कि हालांकि बाजार में इस तकनीक से इलाज के लिए तीस हजार से दो लाख रुपए तक वसूल किए जाते हैं, लेकिन बारां में यह इलाज महज पांच हजार रुपए से लेकर अधिकतम 60 हजार में पीपीपी मोड के आईवीएफ सेंटर पर हो जाएगा।

बारां. अस्पताल के नए ओपीडी विंग में आईवीएफ सेंटर का शुभारंभ करते अतिथि।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Baran

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×