बारां

--Advertisement--

एससी, एसटी एक्ट से छेड़छाड़ का विरोध, आज बंद का आह्वान

जिलेभर में सोमवार को भारत बंद के आह्वान पर शहर सहित कस्बों में बंद का आह्वान किया गया है। इसको लेकर रविवार को...

Dainik Bhaskar

Apr 02, 2018, 02:05 AM IST
जिलेभर में सोमवार को भारत बंद के आह्वान पर शहर सहित कस्बों में बंद का आह्वान किया गया है। इसको लेकर रविवार को विभिन्न संगठनों ने बैठकों में तैयारियों को अंतिम रूप दिया। शहर में डाॅ. भीमराव अंबेडकर यूथ फाउंडेशन के नेतृत्व में रविवार को कोटा रोड स्थित पब्लिक पार्क में विभिन्न संगठनों की बैठक की गई। जिसमें 2 अप्रैल को होने वाले भारत बंद के तहत बारां बंद सफल बनाने को लेकर जिलेवासियों से अपील की है। जिलाध्यक्ष चेतन बैरवा ने बताया कि बैठक में विभिन्न संगठनों अलग-अलग जिम्मेदारियां सौंपी गई। सभी टोलियां सामूहिक रूप से सोमवार सुबह 7 बजे प्रताप चौक पर एकत्रित होंगी। जहां से शहर व बाजार में प्रतिष्ठान बंद कराएंगी। जिलाध्यक्ष बैरवा ने बताया कि अनुसूचित जाति जनजाति उत्पीड़न निवारण अधिनियम विषय में उच्चतम न्यायालय द्वारा की गई टिप्पणी पर देश में दलित वर्ग अपने मानवीय अधिकारों का उल्लंघन मानते हुए आंदोलनरत है। इसी के समर्थन में बारां का दलित वर्ग भी शहर के सभी व्यापारियों व दुकानदारों से बंद के समर्थन की अपेक्षा रखता है। बैरवा ने बताया कि यह आंदोलन को किसी जाति समाज व वर्ग के विरुद्ध न होकर सामाजिक समरसता का परिचायक है। संगठन के आग्रह पर व्यापार संगठनों ने बंद को समर्थन दिया है।

श्री चौरासी वशिष्ट रजक समाज विकास समिति की ओर से 2 अप्रैल का भारत बंद के तहत बारां बंद को समर्थन दिया है। अध्यक्ष कस्तूरचंद सिंगोरिया ने बताया कि समाज के सभी सदस्य, संगठनों के पदाधिकारी 2 अप्रैल को सुबह 8 बजे अस्पताल रोड स्थित श्रीरामजानकी मंदिर पर एकत्रित होंगे। जहां से समूह के रूप में प्रताप चौक पहुंचेंगे तथा अन्य संगठनों के साथ बाद बारां बंद को सफल बनाने में सहयोग किया जाएगा।

इसके बाद राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन दिया जाएगा। उपाध्यक्ष केसरीचंद दतेरिया, मंत्री रमेश पंकज, नगर पंचायत अध्यक्ष रामबाबू करवा, उपाध्यक्ष हेमराज पंकज खैराली, कोषाध्यक्ष हेमराज दतेरिया, मंत्री राजेश मोरीला, नवयुवक मंडल अध्यक्ष भूपेंद्र पंकज, चौरासी पंचायत के सभापति बाबूलाल पंकज, प्रवक्ता राजेश रंगीला व चतुर्भुज पंकज आदि ने बंद को सफल बनाने की अपील की है।

राष्ट्रव्यापी आंदोलन के तहत ज्ञापन सौंपा

छबड़ा| अनुसूचित जाति व जनजाति समंवय समिति की ओर से राष्ट्रव्यापी आंदोलन के तहत ज्ञापन सौंपा। समंवय समिति के लक्ष्मीचंद यादव ने बताया की सर्वोच्च न्यायालय के आदेश व निर्णय से अनुसूचित जाति व जनजाति को आघात पहुंचा है। इस निर्णय के विरोध में राष्ट्रव्यापी आंदोलन किया जा रहा है। जिसके तहत सोमवार को कस्बा बंद का निर्णय लिया गया है। ज्ञापन देने वालों में में अनुसूचित जाति व जनजाति के कई लोग शामिल थे।

एसटी, एससी वर्ग के लोगों की बैठक

छीपाबड़ौद|
कस्बे के मंशापूर्ण हनुमान मंदिर पर रविवार को पूर्व प्रधान बाबूलाल मीणा की मौजूदगी में एसटी, एससी वर्ग के लोगों की बैठक हुई। बृजराज मीणा ने बताया कि बैठक में सोमवार को भारत बंद के दौरान कस्बा बंद कराने को लेकर चर्चा की गई। एसटी, एससी वर्ग के लोग अकलेरा चुंगी नाके पर सुबह आठ बजे एकत्र होंगे। इसके बाद जुलूस के रूप में मुख्य बाजार होते हुए ढोलम चौराहा, अंबेडकर सर्किल तक जाएंगे। उसके बाद राष्ट्रपति के नाम एसडीएम को दोपहर एक बजे ज्ञापन देंगे। बैठक में बाबूलाल टाटू, त्रिलोक मीणा, प्रदीप मीणा, बनवारी लाल मीणा सरपंच, पुष्करराज सालवी, मोहनलाल, बलराम मीणा, रूपचंद रेगर, शिवराज मीणा, महेंद्र यादव, सत्तू मीणा, ओमप्रकाश भील सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे। (शेष| 12 पर )

X
Click to listen..