--Advertisement--

ओवरलोड जीपें ही सफर का जरिया

ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को बेहतर यातायात सुविधा उपलब्ध कराने के लिए गांव-गांव, ढाणी-ढाणी को सड़काें से जोड़ तो...

Dainik Bhaskar

Nov 11, 2018, 09:07 AM IST
Shahabad - overload jeeps are the only way to travel
ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को बेहतर यातायात सुविधा उपलब्ध कराने के लिए गांव-गांव, ढाणी-ढाणी को सड़काें से जोड़ तो दिया, लेकिन अभी तक इन सड़कों पर रोडवेज, लोक परिवहन बसों का संचालन नहीं हो रहा है। इसके चलते कस्बे सहित शाहाबाद एवं कस्बाथाना से जुड़े गांवों की सड़कों पर निजी वाहन चालक क्षमता से अधिक सवारी बैठाकर जोखिमभरी यात्रा करा रहे हैं।

रोडवेज बसों के अभाव में ग्रामीणाें को मजबूरीवश निजी वाहनों में यात्रा करनी पड़ रही है। बारिश के दौरान अधिकतर ग्रामीण सड़कें जर्जर होने से हर दम हादसे का डर बना रहता है। पुलिस प्रबंधन क्षमता से अधिक सवारी बिठाने वाले वाहनों के खिलाफ कभी-कभार नाकाबंदी कर चालानी कार्रवाई करता है। कस्बे को जंगल क्षेत्र से जोड़ने वाले बीलखेड़ा डांग राेड पर पूर्व में दो-तीन बार रोडवेज की बस का संचालन हुआ, लेकिन बस के चालक-परिचालक जंगल क्षेत्र में जाने से आनाकानी कर सवारियों के टिकट नहीं काटते। जिससे कुछ दिन चलकर बस बंद हो जाती है। क्षेत्र में संचालित होने वाली लोक परिवहन बसों का संचालन अभी केवल एनएच-27 से जुड़े गांवों तक ही सीमित है। कस्बे से जुड़े बमनगवां , चौराखाड़ी रोड का निर्माण हुए करीब डेढ़ दशक हो गया, लेकिन अभी तक इन मार्गों पर रोडवेज बस सेवा शुरू नहीं हुई है। ग्रामीण लालाराम, राजकुमार, रंगीलाल जाटव ने ग्रामीण क्षेत्र में रोडवेज बस संचालन की मांग की है।

देवरी. ग्रामीणों को निजी वाहनों में इस तरह करना पड़ता है सफर।

X
Shahabad - overload jeeps are the only way to travel
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..