• Hindi News
  • Rajasthan
  • Baran
  • Baran News rajasthan news immersed the idols of mata rani by taking out a procession with a musical instrument and also performed kanya pujan

गाजे-बाजे के साथ शोभायात्रा निकालकर माता रानी की प्रतिमाओं का विसर्जन, कन्या पूजन भी किया

Baran News - कस्बे में नवरात्र के दौरान सजाई गई माता की प्रतिमाओं को गाजे-बाजे के साथ विसर्जन के लिए ले जाया गया। कस्बे के...

Oct 10, 2019, 07:11 AM IST
कस्बे में नवरात्र के दौरान सजाई गई माता की प्रतिमाओं को गाजे-बाजे के साथ विसर्जन के लिए ले जाया गया। कस्बे के हिंगलाज माता मंदिर के पास श्री कृष्ण नवयुवक मंडल की ओर से बुधवार को माता की प्रतिमा को गाजे-बाजे के साथ विसर्जन के लिए त्रिवेणी धाम समेल पर ले जाया गया। इस मौके पर श्रीकृष्ण नवयुवक मंडल के त्रिलोकचंद राठौड़, मोगली, कमलेश, राजमल चक्रधारी, राजू, सहित कई पदाधिकारी व कार्यकर्ता भी साथ थे।

कन्या पूजन पर 51 बच्चियों को पहनाई चरण पादुकाएं: बारां. अंतरराष्ट्रीय वैश्य महासम्मेलन बारां जिला की ओर से नवरात्रा समाप्ति पर राजकीय प्राथमिक विद्यालय तालाबपाडा, सर्राफा बाजार स्थित विद्यालय में बुधवार को कन्या पूजन कर 51 बच्चियों को चरण पादुकाएं पहनाई। वैश्य महासम्मेलन जिलाध्यक्ष ललितमोहन खंडेलवाल, महिला जिलाध्यक्ष मंजू गर्ग, युवा अध्यक्ष पीयूष गर्ग, महिला संयोजिका सुधा मारू, महामंत्री शिल्पा ठाकुरिया ने बताया कि नवरात्रा के अवसर पर कन्या पूजन का विशेष महत्व है। अंर्तराष्ट्रीय वैश्य महासम्मेलन ने बुधवार को विद्यालय में अध्ययन करने वाली जरूरतमंद 51 छात्राओं को चरण पादुकाएं पहनाकर कन्या पूजन किया। इस अवसर पर स्कूली स्टाॅफ भी उपस्थित रहा।

डांडिया रास का हुआ समापन: अंता. कस्बे की आवासन मंडल कॉलोनी में डांडिया रास का आयोजन किया गया था। आयोजन समिति की महिला कार्यकर्ता रिंकी मेहता ने बताया कि नौ दिवसीय डांडिया महोत्सव में बच्चों के कई कार्यक्रम हुए। जिसमें फैंसी ड्रेस, डांस, बेस्ट डांडिया, ड्रेस और काव्य पाठ का भी आयोजन किया गया। साथ ही परंपरागत कार्यक्रमों के तहत 108 दीपक से महाआरती, छप्पन भोग, कन्या भोज का आयोजन भी किया गया। आयोजन के समापन पर नागरिकों, कॉलोनीवासियों के सहयोग से बच्चों को उपहार एवं प्रसाद वितरण किया गया। समापन समारोह में आयोजन समिति के महावीरप्रसाद गुप्ता ने जतिन गुप्ता, गोलू, सोनू, कृष्णा, प्रमोद, मोनू, रितिक, यशवर्धन को पारितोषिक दिया गया। इसमें आवासन मंडल समिति अध्यक्ष राजेंद्र सिंघल, अजय मेहता, रघुवीर, जीतमल मालव, घनश्याम मालव, एचआर मीणा सहित कई लोग मौजूद थे।

बमोरीकलां. कस्बे में जय नवयुवक मण्डल एंव बालाजी नवयुवक कार्यकर्ताओं ने जुलूस के साथ माता की प्रतिमाओं का विसर्जन किया। दोपहर को डोल के हनुमान मंदिर परिसर से जुलुस का शुभारंभ हुआ जो खेजडा वाली माता मंदिर प्रांगण पहुंचा। यहां से दूसरी प्रतिमा को लेकर नगर भ्रमण करता हुआ शाम के समय जलेश्वर महादेव मंदिर पर जाकर समाप्त हुआ। जुलुस के दौरान भजनों की धुन पर सभी भक्तो ने नृत्य किया। जलेश्वर महादेव मंदिर पहुंचने पर महाआरती के साथ बाणगंगा नदी मंे विसर्जन किया।

बड़गांव. कस्बे में नवरात्रा के दौरान स्थापित की गई मां दुर्गा की प्रतिमा का विसर्जन किया गया। विसर्जन में सभी माता के जयकारे बोलते हुए जा रहे थे। विसर्जन से पूर्व छोटी कन्याओं को भोजन भी कराया गया।

मांगरोल. कस्बे के आजाद मार्केट में माता दुर्गा की नवरात्र में सजाई गई झांकी का बुधवार को पूर्णाहुति कर शोभायात्रा निकाली गई और पार्वती नदी में विसर्जन किया गया।

बोहत. कस्बे में नवरात्र स्थापना पर सजाई माताजी की प्रतिमाओं का बुधवार को पूर्णाहुति कर डीजे के युवक-युवतियों ने नाचते-गाते शोभायात्रा निकाली व पार्वती नदी में विसर्जित किया। बजरंग नवयुवक मंडल के मुकेश गोचर, भोलेश, गुंजन, लोकेश चंदेल, मीनू राठौर ने शोभायात्रा में भाग लिया।

अटरू. कस्बे में बुधवार को माता की प्रतिमाओं को धूमधाम से विदा किया गया। दोपहर बाद से ही सभी मां भगवती मंडलों ने विदाई की तैयारियां शुरु कर व लगभग शाम चार बजे एक दर्जन से अधिक माता की झांकियां जूलुस के रूप में मुख्य बाजारों से निकली। इस दौरान महिला, पुरंष व बच्चे माता के भजनों पर नाचते-गाते चल रहे थे। इसके बाद सभी प्रतिमाओं का बुद्धसागर तालाब में विसर्जन किया गया। एहतियात के तौर पर दोपहर 12 बजे से ही प्रत्येक प्रतिमा स्थल पर पुलिसकर्मी तैनात रहे तथा जूलुस में भी पुलिस का सहयोग देखने को मिला।

किशनगंज. कस्बे समेत आस-पास गांव में सजाई गई मां दुगा की प्रतिमाओं का विसर्जन किया गया। पुराने थाना तिराहा, सहरिया कॉलोनी व रामजानकी मंदिर से नवयुवक मंडल के सदस्य डीजे की धुन पर शोभायात्रा निकालते हुए पार्वती नदी पहुंचे, जहां प्रतिमाआें का विसर्जन किया गया। वहीं भंवरगढ़ में भी सरपंच धर्मराज चौधरी द्वारा झांकी बनाने वाले कलाकाराें का सम्मान किया गया।

छीपाबड़ौद. विसर्जन के लिए ले जाते माता की प्रतिमा।

किशनगंज. भंवरगढ़ में झांकियां सजाने वालों को सम्मानित करते सरपंच।

अटरू. माता की प्रतिमाओं को विसर्जन के लिए ले जाते श्रद्धालु।

बमोरीकलां. शोभायात्रा निकालकर माता की प्रतिमा का विसर्जन किया।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना