--Advertisement--

मैं होरी कैसे खेलूंगी जा सांवरिया के संग...

कस्बा सहित उपखंड इलाके में होली की खासी धूम रही। हुरियारों ने गांवों की चौपाल और गली मोहल्लों में जमकर होली खेली।...

Dainik Bhaskar

Mar 04, 2018, 02:05 AM IST
मैं होरी कैसे खेलूंगी जा सांवरिया के संग...
कस्बा सहित उपखंड इलाके में होली की खासी धूम रही। हुरियारों ने गांवों की चौपाल और गली मोहल्लों में जमकर होली खेली। इस अवसर पर हुरियारों की टोलियों ने जमकर रंग गुलाल उड़ाया। गांव की चौपालों पर फाग गायकी की खासी धूम रही। कस्बे की बडी चौपाल पर पड़वा के मौके पर फागोत्सव गायकी में प्रसिद्ध भजन एवं गजल गायक रामबीर सिंह परमार के द्वारा पारंपरिक गायकी का प्रदर्शन कर श्रोताओं को फाग गायकी से रसाविभोर कर दिया। गायक रामवीर सिंह परमार ने दीपचंदी होली अबकी बारी हमारी, लाज राखौ हे बनवारी... से कार्यक्रम का आगाज किया। इसके बाद उन्होंने बनारसी होली गीत खेलें मसाने में होरी दिगंबर खेलें मसाने में होरी... सुनाकर भगवान शिव द्वारा खेली जाने वाली होरी का श्रोताओं को रसास्वादन कराया। परमार ने मैं होरी कैसे खेलूंगी जा सांवरिया के संग सुनाकर बृज की होली में श्रोताओं को गोते लगाकर आनंद से सराबोर कर दिया। लोक गायक पीतम सिंह बघेल ने पारंपरिक राजपूती और दीपचंदी होली सुनाकर श्रोताओं में जोश भर दिया। इस मौके पर ढोलक पर संगत रामवीर सिंह परमार, राजेश नट के द्वारा की गई। कार्यक्रम के अतिथि डीडवाना एडीजे प्रदीप मोदी थे।

इस दौरान हरिसिंह परमार, पूर्व सरपंच महेंद्र सिंह परमार, छैलबिहारी मोदी, रिटायर्ड नायब तहसीलदार सत्यप्रकाश शर्मा, ठाकुर रनवीर सिंह परमार, पूर्व उप सरपंच सुरेश तिवारी, पूर्व सीएमओ महेश शर्मा, अलबेल सिंह परमार, प्रकाश बघेल, मुकेश तिवारी, रामसहाय पोद्दार, किशन मोदी, अजमत खां, ब्राह्मण समाज अध्यक्ष चंचल तिवारी, दाऊजी सिंह परमार, जितेंद्र परमार अध्यापक, हंबीर ठेकेदार, पप्पू परमार पंच, प्रकाश कुशवाह, सुम्मेर सिंह परमार, रामकिशन सिंह परमार, उदल सिंह, रग्गो पहाड़िया, महावीर गर्ग, अनिल मोदी, रामहेत परमार, शादीलाल कुशवाह, गोपाल कुशवाह, मानसिंह परमार आदि मौजूद थे। कार्यक्रम में ग्राम पंचायत प्रतिनिधी हरेंद्र सिंह परमार, नारायण सिंह परमार, रामविनोद सिंह परमार, बनबारी परमार, अनिल परमार, विष्णु परमार, नैमू परमार आदि के द्वारा सभी कलाकारों और अतिथियों का रंग गुलाल लगाकर स्वागत किया गया।

सैंपऊ. बडी चौपाल पर फाग गायकी में रसाविभोर श्रोता व प्रस्तुति देते कलाकार।

वर्षभर की बताई ग्रह, नक्षत्रों की चाल

कस्बे के मिसुर मोहल्ले में हवेली ठकुरायत के हनुमान जी मंदिर पर आयोजित साठिक कार्यक्रम में कलाकारों ने फाग गायन से कार्यक्रम में एक के बाद एक प्रस्तुति देकर लोगों को फागोत्सव में गोते लगवाए। इस मौके पर पंडित श्यामसुंदर शर्मा के द्वारा साठिक पढ़ा गया। साठिक के माध्यम से पत्रा पढ़कर वर्ष भर रहने वाले मौसम, जलवायु के साथ फसलों और ग्रह नक्षत्रों की चाल को पढ़कर सुनाया गया। साठिक सुनने के लिए बडी तादाद में स्थानीय और आसपास के गांवों के लोगों की भीड़ मौजूद थी। तीन घंटे चले कार्यक्रम के अंत में साठिक सुनने के लिए लोग जमे रहे।

X
मैं होरी कैसे खेलूंगी जा सांवरिया के संग...
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..