Hindi News »Rajasthan »Bari» पुलिस पर गोली चलाने वाले डकैत को कारावास

पुलिस पर गोली चलाने वाले डकैत को कारावास

विशेष न्यायालय डकैती प्रभावित क्षेत्र की न्यायाधीश प्रीति नायक ने वाहनों की लूट की योजना बनाने व पुलिस को जान से...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 01, 2018, 02:20 AM IST

विशेष न्यायालय डकैती प्रभावित क्षेत्र की न्यायाधीश प्रीति नायक ने वाहनों की लूट की योजना बनाने व पुलिस को जान से मारने की नियत से गोली चलाने के एक मामले में डकैत लोकेंद्र पुत्र भोलू ठाकुर निवासी पिपरोन थाना बसेड़ी को 7 वर्ष की कठोर कारावास व 4 हजार रुपए के जुर्माने से दंडित किया है।

अपर लोक अभियोजक अमर सिंह ने बताया कि परिवादी बसेड़ी थानाधिकारी बृजेश मीणा ने 30 मई-16 को रिपोर्ट दर्ज करवाई थी कि मुखबिर से उन्हें सूचना मिली कि कुछ बदमाश जंगलों में बैठे हैं। इसके बाद पुलिस की टीम बनाकर भेजा गया। थानाप्रभारी के अनुसार, वह जंगलों मे पहुंचा तो डकैत वाहनों को लूटने की योजना बना रहे थे। इसके बाद जब पुलिस ने उन्हें ललकारा तो बदमाशों ने जान से मारने की नियत में देशी कट्टे से गोली चलाई। मामले की सुनवाई करते हुए विशेष न्यायालय डकैती प्रभावित क्षेत्र की न्यायाधीश प्रीति नायक ने डकैत लोकेंद्र पुत्र भोलू ठाकुर निवास पिपरोन को साथ वर्ष के कठोर कारावास व 4 हजार रुपए के जुर्माने से दंडित किया। लोक अभियोजक ने बताया कि लूट की योजना बनाने के इसी मामले में दो डकैत लटूरी उर्फ सुखवीर व रामनिवास को 30 जून-10 को सजा सुनाई जा चुकी है। जबकि उसके एक साथी को न्यायालय ने दोषमुक्त किया है।

दुष्कर्म की कोशिश करने वाले को भी मिली 3 साल की कैद

एडीजे कोर्ट के न्यायाधीष सलीम बदर ने करीब साढ़े चार साल पुराने दुष्कर्म का प्रयास करने के एक मामले में फैसला सुनाते हुए एक आरोपी को 3 वर्ष का कारावास व 20 हजार रुपए से दंडित किया है। वहीं दूसरे आरोपी को दोष मुक्त कर दिया।

अपर लोक अभियोजक अजय कुमार गुप्ता ने बताया कि पीड़त महिला ने महिला थाने में 26.09.13 को रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। इसमें महिला ने बताया था कि 25.9.13 की रात को वह घर पर बच्चों के साथ सो रही थी। इसी दौरान आरोपी मुरारी उर्फ मोरी पुत्र सोभरन निवासी बड़ा पुरा मौरोली तथा मंजू पुत्र रोशन गुर्जर निवासी नीम बसई घर में घुसे और मुरारी उर्फ मोरी ने दुष्कर्म का प्रयास करने की कोशिश की थी। शोर मचाने पर आरोपी भाग गए थे। एडीजे कोर्ट में सुनवाई के दौरान कोर्ट ने माना कि आरोपी मुरारी उर्फ मोरी पुत्र सोभरन निवासी बड़ा पुरा मौरोली ने पीड़िता के साथ दुष्कर्म का प्रयास करने की कोशिश की थी। इस पर कोर्ट ने आरोपी को तीन वर्ष के कारावास व 20 हजार रुपए के जुर्माने से दंडित किया। वहीं कोर्ट ने दूसरे आरोपी मंजू को दोषमुक्त कर दिया। 2013 में हुई इस घटनाक्रम की लगातार सुनवाई चल रही थी। न्यायाधीश सलीम बदर ने आरोपियों को कारावास की सजा के साथ-साथ 20 हजार रुपए के अर्थदंड की सजा से भी दंडित किया गया है।

4 हजार रुपए के अर्थदंड से भी किया दंडित

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bari

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×