• Hindi News
  • Rajasthan News
  • Bari News
  • 18 माह की प्रज्ञा सहित पंद्रह नौनिहालों का जनवरी में कराया उपचार
--Advertisement--

18 माह की प्रज्ञा सहित पंद्रह नौनिहालों का जनवरी में कराया उपचार

जिला में राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत विभिन्न टीमों ने जनवरी माह में सोलह बच्चों की स्क्रीनिंग कर...

Dainik Bhaskar

Feb 16, 2018, 02:25 AM IST
18 माह की प्रज्ञा सहित पंद्रह नौनिहालों का जनवरी में कराया उपचार
जिला में राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत विभिन्न टीमों ने जनवरी माह में सोलह बच्चों की स्क्रीनिंग कर हायर सेंटर पर रोग का उपचार कराया है। जिसमें बसेड़ी ए, टीम ने 18 माह की प्रज्ञा का दिल की बीमारी से ग्रसित होने पर आंगनबाड़ी से चयन किया है जो गंभीर हृदय रोग से ग्रसित थी।

बसेड़ी टीम के प्रभारी डाॅ. राजकुमार ने बताया कि जनवरी माह में बसेड़ी के नगला रायजीत में आंगनबाड़ी पर बच्चों की स्क्रीनिंग के दौरान प्रज्ञा का दिल अन्य बच्चों की तरह सामान्य नहीं था, प्रज्ञा की स्क्रीनिंग करने के बाद परिजनों से प्रज्ञा के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली गई तथा बीमारी के बारे में परिजनों को अवगत कराया गया। प्रज्ञा के पिता जयपुर स्थित होटल में वेटर का कार्य करने के कारण बीमारी का उपचार कराने में सक्षम नहीं थे, लेकिन बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम की टीम ने निःशुल्क बेटी का उपचार कराने का हवाला देते ही प्रज्ञा के परिजन बेटी का उपचार कराने के लिए तैयार हो गए। प्रज्ञा 16 माह की उम्र में ही आंगनबाड़ी में शिक्षण करने लग गई, जिसका दो माह बाद ही बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम की टीम ने चयन कर लिया।

प्रज्ञा का बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत जयपुर के निजी अस्पताल में दिल का ऑपरेशन कराया गया है अब प्रज्ञा पूरी तरह स्वस्थ है। इसी प्रकार जिला में जनवरी माह में दिल व ओटाईटिस मीडिया से ग्रसित प्रज्ञा सहित पंद्रह बच्चों का उपचार कराया गया है। जिसे तीन बच्चे हृदय व 13 बच्चे ओटाईटिस मीडिया रोग से ग्रसित थे।

सरमथुरा. जयपुर के अस्पताल में प्रज्ञा।

गुरूवार को सरमथुरा से 22 बच्चें किए गए रैफर

गुरूवार को कस्बा में राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में बसेड़ी ए व बी टीम मौजूद रही। शिविर में आंगनबाड़ी केंद्र, शिक्षण संस्था व मदरसों में स्क्रीनिंग के दौरान चयनित बच्चों का चिकित्सकों द्वारा उपचार किया गया। जिसमें से 22 बच्चों को हायर सेंटर उपचार के लिए रैफर किया गया। इस दौरान डाॅ. चेतराम मीणा, डाॅ. सीताराम मीणा, डाॅ. रविन्द्र कुमार व डाॅ. महेश वर्मा ने बच्चों की स्क्रीनिंग कर उपचार किया। शिविर में 110 बच्चों की जांच की गई। शिविर में बसेड़ी ए टीम प्रभारी डाॅ. राजकुमार कवीरा, शिवदत्त, एएनएम राधा शर्मा सहित बसेड़ी बी टीम प्रभारी डाॅ. मुन्नालाल परमार, डाॅ. हरिचरण शर्मा व एएनएम लक्ष्मी मीणा मौजूद रही। आरसीएचओ डाॅ. सीताराम मीणा ने बताया कि शिविर में 19 बच्चे हायर सेंटर व 3 बच्चे जिला अस्पताल रैफर किए गए है। जिनका उपचार राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत कराया जावेगा।

X
18 माह की प्रज्ञा सहित पंद्रह नौनिहालों का जनवरी में कराया उपचार

Recommended

Click to listen..