Hindi News »Rajasthan »Bari» एटीएम से नहीं निकली राशि, कट गए खाते से 20 हजार रुपए, स्टेट बैंक पर लगा 10 हजार रुपए का हर्जाना

एटीएम से नहीं निकली राशि, कट गए खाते से 20 हजार रुपए, स्टेट बैंक पर लगा 10 हजार रुपए का हर्जाना

धौलपुर| जिला उपभोक्ता संरक्षण मंच के अध्यक्ष जगदीश प्रसाद शर्मा एवं सदस्य अर्चना तिवारी ने राकेश वर्मा की ओर से...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 10, 2018, 02:25 AM IST

धौलपुर| जिला उपभोक्ता संरक्षण मंच के अध्यक्ष जगदीश प्रसाद शर्मा एवं सदस्य अर्चना तिवारी ने राकेश वर्मा की ओर से स्टेट बैंक के विरुद्ध दायर एक परिवाद में आदेश प्रदान करते हुए स्टेट बैंक के ऊपर 10 हजार रुपए का हर्जाना लगाया है।

परिवादी के अधिवक्ता अतुल भार्गव ने बताया कि परिवादी जो कि वर्तमान में न्यायालय अपर सेशन न्यायाधीश बाड़ी में निजी सहायक के पद पर कार्यरत है, के द्वारा 1 नवम्बर 2016 को अपने वेतन की जमा राशि को निकालने के लिए बैंक के नगर पालिका स्थित एटीएम जिसे रामनगर एटीएम के नाम से भी जाना जाता है पर गया एवं जब उसने 20 हजार रुपए निकालने के लिए अपना कार्ड मशीन में डाला और 20 हजार रुपए मशीन में अंकित किए तो मशीन में रुपए नहीं निकाले, लेकिन रुपए खाते से कटने की रसीद निकल गई तथा परिवादी के खाते से 20 हजार रुपए कट गए। परिवादी द्वारा इस संबंध में बैंक की धौलपुर शाखा प्रबंधक को शिकायत की। जिनके द्वारा कहा गया कि 24 घंटे में पैसे वापस खाते में आ जाएंगे, लेकिन उसके बावजूद जब पैसे नहीं आए तो परिवादी वापिस बैंक पहुंचा। जिस पर उसको कहा गया कि खाता बाड़ी में है इसलिए बाड़ी में ही लिखित शिकायत दर्ज कराओ। जिस पर परिवादी ने शाखा बाड़ी में अपनी शिकायत दर्ज कराई। जिस पर परिवादी को कहा गया कि शिकायत एटीएम ऑफिस मुंबई भेजी जा रही है एवं 10 दिन बाद इस बारे में जानकारी मिलेगी। इसके बाद परिवादी वापस जब 10 दिन बाद गया तो परिवादी को बताया गया कि ट्रांजेक्शन सक्सेसफुल है। अब इसमें हम कुछ नहीं कर सकते हैं। इसके पश्चात परिवादी ने एटीएम ऑफिस मुंबई में संपर्क किया एवं स्टेट बैंक की भरतपुर शाखा जिसके अंडर में एटीएम बताया गया, वहां संपर्क किया लेकिन उसके बावजूद परिवादी को राशि नहीं लौटाई गई तथा परिवादी को लिखित में भी दे दिया गया कि एटीएम में पैसा नहीं बढ़ा है इस कारण वह नहीं लौटा सकते। परिवादी द्वारा एक शिकायत जरिए रजिस्टर्ड डाक से बैंकिंग लोकपाल रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया रामबाग सर्किल जयपुर को घटना का सारा विस्तृत ब्यौरा लिखते हुए भेजी गई। परिवादी की शिकायत पर बैंकिंग लोकपाल ने कार्रवाई की तथा परिवादी एवं बैंक के अधिकारियों की मौजूदगी में सुनवाई करते हुए सीसीटीवी फुटेज देखें। जिनमें पाया कि परिवादी की राशि एटीएम से नहीं निकली है तथा यह भी पाया गया कि उस दिन इस एटीएम में राशि 18 हजार रुपए बढ़ी हुई थी। जिस पर बैंकिंग लोकपाल ने बैंक को आदेश दिया कि वह परिवादी के खाते में 20 हजार रुपए की राशि जमा करे। मंच ने परेशानी व हैरानी को देखते हुए तथा पूर्व में एटीएम में राशि एक्सिस होने के बावजूद परिवादी को नहीं लौटाए जाने को सेवादोष माना तथा बैंक के ऊपर 10 हजार रुपए का हर्जाना लगाया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bari

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×