• Hindi News
  • Rajasthan News
  • Bari News
  • 6 माह पहले ही तय हो गया था मेडिकल कॉलेज खुलना, आरईसीएल की 50 बीघा भी दी जा चुकी
--Advertisement--

6 माह पहले ही तय हो गया था मेडिकल कॉलेज खुलना, आरईसीएल की 50 बीघा भी दी जा चुकी

बजट में धौलपुर के लिए तीन बड़ी घोषणाएं की गई हैं। बजट में जिले को मेडिकल कॉलेज के साथ बसेड़ी में राजकीय कॉलेज मिला...

Dainik Bhaskar

Feb 13, 2018, 03:25 AM IST
6 माह पहले ही तय हो गया था मेडिकल कॉलेज खुलना, आरईसीएल की 50 बीघा भी दी जा चुकी
बजट में धौलपुर के लिए तीन बड़ी घोषणाएं की गई हैं। बजट में जिले को मेडिकल कॉलेज के साथ बसेड़ी में राजकीय कॉलेज मिला है। इसमें कॉलेज की मांग तो करीब एक वर्ष से की जा रही है। वहीं हवाई पट्टी की घोषणा तो पहले हुई थी पर इसका उल्लेख बजट में भी किया गया है।

मेडिकल कॉलेज के लिए 6 माह पहले से मशक्कत चल रही थी। धौलपुर जिला चिकित्सालय को बड़ा करने के लिए नरपुरा गांव में 27 बीघा भूमि का आवंटन किया था, लेकिन भविष्य में धौलपुर जिले में मेडिकल कॉलेज की संभावनाओं को तलाशते हुए सरकार के आदेश पर नरपुरा की जमीन को रद्द कर बाड़ी रोड स्थित नेहरू युवा केंद्र से लगी आरईसीएल की 50 बीघा भूमि को चिह्नित किया था। पिछले वर्ष लगभग सवा तीन महीने तक मेडिकल कॉलेज के लिए जमीन अलॉट कराने के लिए विभिन्न विभागों में चली पत्रों की मैराथन दौड़ 7 अक्टूबर को उस वक्त थम गई, जब जिला कलेक्टर ने सभी विभागों से मंजूरी मिलने के बाद जिला चिकित्सालय और मेडिकल कॉलेज के लिए जगह आवंटित कर दी। सीएम की इस घोषणा से जिले का युवा वर्ग काफी खुश है। यहीं नहीं मेडिकल कॉलेज खुलने के बाद धौलपुर में लोगों को बेहतर चिकित्सा सुविधा भी मिल सकेगी। इस संबंध में भास्कर ने 8 अक्टूबर को ही बता दिया था कि मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे घोषणाओं से पहले योजनाओं को अमलीजामा पहना शुरू कर दिया है।

चिकित्सा

धौलपुर में बनेगा मेडिकल कॉलेज, नेहरू युवा केंद्र के पास होगा निर्माण

धौलपुर. नेहरू युवा केंद्र के पास इस जगह पर बनेगा सरकारी अस्पताल व मेडिकल कॉलेज।

8 अक्टूबर 2017 को प्रकाशित।

शिक्षा

बाड़ी में खुलेगा राजकीय महाविद्यालय, जमीन की तलाश

हवाई सेवा

आठ मील के पास बनेगी हवाई पट्‌टी, जमीन के लिए फाइल मुख्यालय में

आपातकालीन हवाई पट्टी की फाइल मुख्यालय भेजी

सीएम की ओर से धौलपुर से पुराना बाड़ी रोड पर आठ मील के पास आपातकालीन हवाई पट्टी की घोषणा की थी। जब वहां पर नाप तोल आदि की तो पता चला कि हवाई पट्टी वाली जमीन वन विभाग की है। ऐसे में स्वीकृत के लिए फाइल मुख्यालय भेजी गई है। इसी पट्टी की अधिकृत रूप से घोषणा बजट में की है।

100 करोड़ का मिला बजट

जिला चिकित्सालय धौलपुर के नवीन भवन एवं क्वार्ट्स के निर्माण के लिए गत वर्ष 100 करोड़ का प्रावधान किया गया था। इसी क्रम में क्षेत्र के लोगों को बेहतर चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए धौलपुर में नवीन मेडिकल कॉलेज की स्थापना की घोषणा की गई है।

पेयजल

धौलपुर लिफ्ट योजना के लिए 150 करोड़ रुपए किए स्वीकृत

बसेड़ी, सरमथुरा व आसपास के 500 से अधिक छात्र-छात्राएं उच्च शिक्षा के लिए नहीं जाएंगे बाहर

बसेड़ी में सरकारी कॉलेज खुलने से करीब 500 विद्यार्थियों को इसका लाभ मिलेगा। क्योंकि बसेड़ी, सरमथुरा के विद्यार्थियों को कस्बे में संचालित निजी शिक्षण संस्थाओं में मजबूरन प्रवेश लेना पड़ता था तथा कॉलेज प्रशासन को मनमाफिक फीस चुकानी पड़ती थी। वहीं दूसरी ओर सबसे अधिक परेशानी छात्राओं को उठानी पड़ती थी। क्योंकि बजट के अभाव में ग्रामीण क्षेत्र की छात्राएं पढ़ाई से वंचित रह जाती थी। जिससे बेटियों को उच्च शिक्षा हासिल करने का सपना अधूरा रह जाता था। गौरतलब है कि लंबे समय से बसेड़ी क्षेत्र में सरकारी महाविद्यालय की मांग की जा रही थी। कॉलेज जाने वाले छात्रों ने तो करीब एक वर्ष से आंदोलन चला रखा था। छात्र लगातार धरना-प्रदर्शन के साथ ही ज्ञापन आदि दे रहे थे। इन्हीं की भावनाओं का ध्यान सीमए ने बजट में रखा है। लोगों ने इसे संघर्ष की जीत बताया है।

अब केंद्र सरकार देगी योजना के लिए बजट

37 हजार करोड़ की लागत की ईस्टर्न राजस्थान कैनाल प्रोजेक्ट से धौलपुर को भी जोड़ा है। इस परियोजना के तहत 13 जिलों में स्थित प्रमुख जलाशयों को आपस में जोड़ा जाएगा। जिससे इनमें पानी की उपलब्धता सुनिश्चित हो सके। केंद्र ने इस योजना को मंजूर किया तो धौलपुर जिले के आधे से ज्यादा गांवों को योजना का सीधा लाभ मिलेगा।

खेती

37 हजार करोड़ की योजना में धौलपुर को भी किया शामिल

X
6 माह पहले ही तय हो गया था मेडिकल कॉलेज खुलना, आरईसीएल की 50 बीघा भी दी जा चुकी
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..