Hindi News »Rajasthan »Bari» सार्वजनिक शौचालयों के निर्माण को तीन साल गुजरने के बाद भी ताले में बंद

सार्वजनिक शौचालयों के निर्माण को तीन साल गुजरने के बाद भी ताले में बंद

सरमथुरा| कस्बा में ग्रापं प्रशासन केन्द्र व राज्य की वित्तीय राशि का जमकर दुरुपयोग करने में लगी है। ग्रापं...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 08, 2018, 03:25 AM IST

सरमथुरा| कस्बा में ग्रापं प्रशासन केन्द्र व राज्य की वित्तीय राशि का जमकर दुरुपयोग करने में लगी है। ग्रापं प्रशासन ने कस्बा में निर्माण कराकर राशि को तो खर्च कर दिया है लेकिन तीन वर्ष गुजरने के बाद भी योजना का फायदा आमजन को नहीं मिल पा रहा है।

निर्माण को देखने पर ऐसा प्रतीत हो रहा है कि ग्रापं प्रशासन निर्माण कराने के बाद योजना को शुरू करना ही भूल गई है। जिससे आमजन में आक्रोश है। ग्रापं प्रशासन ने वर्ष 2015-16 में साढ़े सात लाख की राशि खर्च कर आमजन को राहत देने की कोशिश की थी लेकिन निर्माण को तीन वर्ष गुजरने के बाद भी आज तक योजना का लाभ आमजन को नहीं मिला है। ग्रापं प्रशासन ने कस्बा में बाड़ी रोड बस स्टैंड पर ढाई लाख की राशि खर्च कर सार्वजनिक शौचालयों का निर्माण तो करा दिया है लेकिन ग्रापं प्रशासन की लापरवाही के कारण आज तक ताले में बंद है। इसी प्रकार ग्रापं प्रशासन ने ढाई लाख की राशि खर्च कर वाई की खान पर सार्वजनिक शौचालयों का निर्माण करा दिया जो आमजन के उपयोग में नहीं आ रहे है। वही ग्रापं प्रशासन ने ढाई लाख की राशि खर्च कर पनहारी गेट स्थित वाटर वक्र्स रोड पर सार्वजनिक पेयजल टंकी का निर्माण मय चिर के करा दिया है जिसमें ग्रापं प्रशासन ने पोर्टल पर सबमर्सिबल डालकर पेयजल टंकी को चालू करना दर्शाया हुआ है लेकिन टंकी के निर्माण के बाद से आज तक टंकी सूखी पड़ी हुई है जिसे किसी भी जलाशय से कनेक्ट नहीं किया हुआ है। वार्डपंच शिवदत्त शर्मा, शंभूसिंह, वार्डपंच प्रतिनिधि इरफान खां ने कलेक्टर से निर्माण कार्यों की जांचकर ग्रापं प्रशासन के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

ग्रापं प्रशासन निर्माण कराने के बाद भूला, 5 लाख की राशि खर्च कर बस स्टैंड व आश्रम में बनवाए थे शौचालय

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bari

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×