बाड़मेर

--Advertisement--

माजीसा मंदिर में उमड़ा आस्था का सैलाब

फाल्गुन मास शुक्ल त्रयोदशी को लेकर कस्बे के प्रसिद्ध माजीसा मंदिर में दिनभर श्रद्धालुओं की रेलमपेल रही। माजीसा...

Danik Bhaskar

Mar 01, 2018, 03:45 AM IST
फाल्गुन मास शुक्ल त्रयोदशी को लेकर कस्बे के प्रसिद्ध माजीसा मंदिर में दिनभर श्रद्धालुओं की रेलमपेल रही। माजीसा के दर्शन के लिए क्षेत्र के साथ दूर-दराज जगहों से बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंचे। श्रद्धालुओं ने घंटों प्रतीक्षा के बाद आई बारी पर मां के दरबार मे शीश नवा, कुमकुम, चुंदड़ी, प्रसाद चढ़ा परिवार में खुशहाली की कामना की। दिनभर श्रद्धालुओं की आवाजाही से मेला सा माहौल नज़र आया। मनोकामनाएं पूर्ण होने पर बहुत से श्रद्धालुओं ने मंदिर में राती जोगा दिया। मंदिर में भजन कीर्तन हुए। त्रयोदशी बुधवार को ब्रह्ममुहूर्त में मंदिर के दरवाजे खुलते ही यंहा बड़ी संख्या में श्रद्धालु उमड़े। उन्होंने मां की मंगल आरती उतारी। शीश नवा, प्रसाद चढ़ाकर परिवार में खुशहाली की कामना की। त्रयोदशी को लेकर माता राणी भटियाणी की प्रतिमा का नव वस्त्राभूषण से श्रृंगार किया गया। जयकारों के चलते पूरे दिन मंदिर का माहौल धर्ममय बना रहा। श्रद्धालुओं ने मंदिर परिसर में स्थित सवाईसिंहजी, लालसिंह व बायोसा के मंदिर में भी विधि- विधान से पूजा अर्चना की। फाल्गुन शुक्ला त्रयोदशी के अवसर पर कई नव- विवाहित जोड़ो ने छेड़ाबंदी बांधकर कर सुखी दाम्पत्य जीवन की कामना के लिए मां के दरबार मे जात लगाई। मेले के आयोजन को लेकर मंदिर परिसर तथा बस स्टैंड व आसपास के क्षेत्रों में दुकानें सजाई गई। मेले में भारी भीड़ को देखते हुए मंदिर व्यवस्था समिति तथा पुलिस प्रशासन चौकी प्रभारी, मंदिर व्यवस्थापक ,विक्रम टेम्पो यूनियन, ग्राम पंचायत जसोल व अन्य व्यवस्थापकों ने श्रद्धालुओं को कतारबद्ध व सुचारू रूप से दर्शन करने में अपना सहयोग दिया।

जसोल. माजीसा मंदिर में श्रृंगारित माता की प्रतिमा।

Click to listen..