• Home
  • Rajasthan News
  • Barmer News
  • कठुआ दुष्कर्म केस : सुप्रीम कोर्ट ने गवाहों से पूछताछ के समय परिजनों को मौजूद रहने की इजाजत दी
--Advertisement--

कठुआ दुष्कर्म केस : सुप्रीम कोर्ट ने गवाहों से पूछताछ के समय परिजनों को मौजूद रहने की इजाजत दी

गवाहों की याचिका पर दिया आदेश, पुलिस पर लगाया है परेशान करने का आरोप नई दिल्ली | कठुआ सामूहिक दुष्कर्म और हत्या...

Danik Bhaskar | May 18, 2018, 05:00 AM IST
गवाहों की याचिका पर दिया आदेश, पुलिस पर लगाया है परेशान करने का आरोप

नई दिल्ली | कठुआ सामूहिक दुष्कर्म और हत्या मामले के तीन गवाहों से जम्मू-कश्मीर पुलिस की पूछताछ के वक्त उनके परिजन वहां मौजूद रहेंगे। सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को इसकी इजाजत देते हुए पुलिस से निष्पक्ष ढंग से जांच करने को कहा। हालांकि वीडियोग्राफी की इजाजत नहीं दी।

चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा, जस्टिस एएम खानविलकर और डीवाई चंद्रचूड़ की बेंच ने तीनों गवाहों की याचिका पर कहा कि तीनों गवाहों से पूछताछ के दौरान उनके एक-एक परिजन साथ रह सकते हैं। ये कुछ दूरी से देख सकेंगे लेकिन जांच कक्ष में नहीं जाएंगे। आरोपियों के दोस्त इन गवाहों ने याचिका में जम्मू कश्मीर पुलिस की अपराध शाखा पर परेशान करने का आरोप लगाया है। सुनवाई के दौरान जस्टिस खानविलकर ने राज्य पुलिस से पूछा कि गवाहों के साथ आरोपियों की तरह क्यों व्यवहार किया जा रहा है। राज्य सरकार ने कहा कि मामले के आरोपी विशाल जंगोत्रा के तीनों दोस्तों ने गवाही के दौरान झूठे बयान दर्ज कराए हैं। पुलिस को कुछ नए सबूत मिले हैं और वह पूरक आरोप-पत्र दायर करना चाहती है। मामले की सुनवाई जुलाई के पहले सप्ताह में होगी।