मानवीयता को शर्मसार करने की घटना: महिला दिवस के दो दिन पहले अंधविश्वास की इंतिहा, शैतानी आत्मा निकालने के नाम पर महिला को जूते-बैल्ट से पीटा, लाचार महिला चीखती-चिल्लाती दौड़ती रही, वो पीछे-पीछे दौड़ते रहे / मानवीयता को शर्मसार करने की घटना: महिला दिवस के दो दिन पहले अंधविश्वास की इंतिहा, शैतानी आत्मा निकालने के नाम पर महिला को जूते-बैल्ट से पीटा, लाचार महिला चीखती-चिल्लाती दौड़ती रही, वो पीछे-पीछे दौड़ते रहे

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा वीडियो

स्वरूपसिंह सोढ़ा

Mar 08, 2019, 03:36 PM IST
Barmer rajasthan News in Hindi: story of blind faith and Shame to humanity

बालोतरा/बाड़मेर (राजस्थान)। अंधविश्वास की पराकाष्ठा कहें या मानवीयता को शर्मसार करने की घटना …! मामला पचपदरा कस्बे का है, जहां बुधवार शाम 5.15 बजे एक बदहवास महिला सरे बाजार नंगे पैर भाग रही थी और पीछे एक युवक (भोपा) जूता मारते दौड़ रहा था।


मुख्य बाजार, पुलिस चौकी व आबादी क्षेत्र से चीखती-चिल्लाती भागती महिला के पीछे तमाशबीनों का मजमा भी था, लेकिन किसी ने उसे बचाने की कोशिश नहीं की। करीब दो किमी दौड़ने के बाद महिला गांव के बाहर रण में कूड़े के ढेर में जाकर गिरी, तो युवक ने पहले जूते और बाद में बेल्ट से पिटाई की। कुछ समय बाद शैतानी आत्मा को बाहर निकालने का दावा कर युवक रवाना हो गया।


समाज पर तमाचा
दुखद पहलू तो यह है कि अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस से दो दिन पहले बीच शहर में ऐसी घटना हुई और वह भी तब जब जिले की एसपी और संबंधित थाने की बागडोर एक महिला अधिकारी के हाथ में है, इसके बावजूद डेढ़ घंटे तक शैतानी आत्मा के नाम पर सरे बाजार में महिला का तमाशा बनाना पुलिस सिस्टम के साथ लोगों की रूढ़ीवादी सोच पर कड़ा तमाचा है।


यह है पूरा मामला

मंडापुरा भील बस्ती निवासी बीमार महिला को अंधविश्वास के चलते परिजन भोपा/तांत्रिक के पास ले गए। बुधवार शाम करीब 4.30 बजे तांत्रिक ने पहले घर में पूजा-पाठ करवाया। इस बीच महिला बाहर भागी तो कथित भोपा जूते और बैल्ट से पीटते हुए उसके पीछे दौड़ने लगा। बदहवास महिला गांव के आखिरी छोर स्थित रण में पहुंच कर गिर गई। यहां भी भोपा ने लकीरें खींचकर पिटाई की। इसके बाद शैतानी आत्मा के बाहर निकलने की बात कहकर घर पर लौट गया।


कड़ी कार्रवाई होगी
मामले की जानकारी व सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने पर संज्ञान लेते हुए महिला व उसके पति से पूछताछ की। महिला ने बताया कि उसकी तबीयत ठीक नहीं थी, वह मंदिर जा रही थी और उसके घरवाले मनाने के लिए आ रहे थे। तांत्रिक को दस्तयाब करने के लिए टीम भेजी हुई है। -सरोज चौधरी, थानाधिकारी पचपदरा

X
Barmer rajasthan News in Hindi: story of blind faith and Shame to humanity
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना