बसेड़ी

--Advertisement--

मंजरी फाउंडेशन की निष्पक्ष जांच हो: सहेली जागृति समिति

बसेड़ी. विधायक को ज्ञापन सौंपती सहेली जागृति समिति की सदस्याएं। समिति द्वारा बसेड़ी विधायक को ज्ञापन सौंप की...

Dainik Bhaskar

Apr 09, 2018, 02:35 AM IST
मंजरी फाउंडेशन की निष्पक्ष जांच हो: सहेली जागृति समिति
बसेड़ी. विधायक को ज्ञापन सौंपती सहेली जागृति समिति की सदस्याएं।

समिति द्वारा बसेड़ी विधायक को ज्ञापन सौंप की मांग

बाड़ी | सहेली जागृति महिला सर्वांगीण विकास सहकारी समिति के द्वारा रविवार को बसेड़ी विधायिका रानी सिलौटिया को एक लिखित ज्ञापन सौंपा। जिसमें जिले में राजीविका के अंतर्गत एनजीओ द्वारा किए गए कथित करोड़ों के भ्रष्टाचार की जांच की मांग की। ज्ञापन में सदस्या महिलाओं ने बताया कि मंजरी फाउंडेशन द्वारा जिले में महिलाओं को सशक्तिकरण प्रधान करने व आजीविका से जोड़ने के लिए केन्द्र व राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं में जमके भ्रष्टाचार किया गया है। जिसका लाभ महिलाओं को ना मिलकर सीधा मंजरी फाउंडेशन को मिला है। ज्ञापन में लिखा गया है कि जिले की लगभग 12 ओ एल एफ में मंजरी फाउंडेशन ने राजीविका के तहत कार्य कराने का जिम्मा लिया ओर फर्जी तरीके से बिल बना तथा महिलाओं के फर्जी हस्ताक्षर करवा करोडों के बिल को डकार गए। जिसका लाभ महिलाओं को मिलना था उसका लाभ फर्जीबाड़ा कर मंजरी फाउंडेशन के मालिक संजय शर्मा नई दिल्ली द्वारा उठा लिया गया तथा महिलाओं को ना तो प्रशिक्षण दिया गया और ना ही उन्हें रोजगार परक बनाने के लिए कोई सामान ही दिलाया गया। और तो और संजय शर्मा द्वारा महिलाओं को सीधा लाभ पहुंचाने वाली नरेगा व अन्य योजनाओं को भी बंद करवा दिया गया। इस कथित भ्रष्टाचार में संजय शर्मा के साथ सतेन्द्र सेंगर, महेश कंषाना, कमरूददीन खान, ऋषि पाठक भी शामिल है। महिलाओं द्वारा सौंपे गए ज्ञापन में बताया गया कि संजय शर्मा द्वारा हमें ई मेल आईडी पासवर्ड भी मुहैया करवाई गई थी। लेकिन अब वे कार्य नहीं कर रही जिससे ना तो हम कोई सूचना प्राप्त कर पा रहे है और ही कार्यालय को सूचित कर पा रहे है। ज्ञापन सौंपने वालों में गीता, कमलेश, ललिता, संजू रेखा, बिटटन सहित बडी़ संख्या में समिति की सदस्याएं शामिल रही।

X
मंजरी फाउंडेशन की निष्पक्ष जांच हो: सहेली जागृति समिति
Click to listen..