• Hindi News
  • Rajasthan News
  • Bayana News
  • चढ़ावा तो ले लिया, भगवान के भोग का पैसा नहीं दे रहा देवस्थान विभाग
--Advertisement--

चढ़ावा तो ले लिया, भगवान के भोग का पैसा नहीं दे रहा देवस्थान विभाग

भरतपुर | देवस्थान विभाग भरतपुर जिले के मंदिरों से चढ़ावे का पैसा तो ले रहा है, लेकिन भगवान के भोग और पुजारियों की...

Dainik Bhaskar

May 01, 2018, 03:35 AM IST
भरतपुर | देवस्थान विभाग भरतपुर जिले के मंदिरों से चढ़ावे का पैसा तो ले रहा है, लेकिन भगवान के भोग और पुजारियों की तनख्वाह का पैसा नहीं दे रहा है। ऐसे में कई बार भगवान के भोग का संकट तो हो ही जाता है, पुजारियों को भी अपना घर चलाना मुश्किल हो जाता है। जिले में पिछले दो महीने से किसी भी मंदिर को भोग-प्रसादी और पुजारियों का वेतन नहीं मिला है। खैर, पुजारी अपने स्तर पर जैसे-तैसे भगवान के भोग की व्यवस्था तो कर रहे हैं। लेकिन, उन्हें यह सामग्री बाजार से उधार में लानी पड़ रही है। देवस्थान विभाग के अधीन शहर में 19 और जिले में 15 यानि कुल 34 मंदिर आत्मनिर्भर श्रेणी के हैं। विभाग की ओर से इन मंदिरों को अब सालाना 3600 रुपए वार्षिकोत्सव के लिए दिए जाएंगे।

देवस्थान विभाग के सहायक आयुक्त सुनील मत्तड़ ने बताया कि बजट नहीं मिलने की वजह से मार्च और अप्रैल की भोग राशि और पुजारियाें को वेतन नहीं मिल पाया है।

शहर व जिले में मंदिर कहां-कहां

बिहारी जी और गंगा मंदिर सहित 19 मंदिर हैं। जबकि जिले में बयाना, डीग, कुम्हेर, पैगोंर, डहरा, बाबूला, कामां, उच्चैन, झीलका बाड़ा, वैर, हलैना, बाछरैन सहित 15 मंदिर आत्मनिर्भर श्रेणी के हैं। इस सभी मंदिरों में भोग राशि के अलावा पुजारियों को मासिक वेतन दिया जाता है।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..