• Home
  • Rajasthan News
  • Beawar News
  • ग्रामीण क्षेत्रों में रात बारह बजे से सुबह चार बजे तक ही कर पाएंगे बिजली कटौती
--Advertisement--

ग्रामीण क्षेत्रों में रात बारह बजे से सुबह चार बजे तक ही कर पाएंगे बिजली कटौती

अजमेर विद्य‌ुत वितरण निगम ने हाल ही में आदेश जारी कर ग्रामीण क्षेत्रों में की जाने वाली विद्य‌ुत कटौती के समय को...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 02:15 AM IST
अजमेर विद्य‌ुत वितरण निगम ने हाल ही में आदेश जारी कर ग्रामीण क्षेत्रों में की जाने वाली विद्य‌ुत कटौती के समय को तय करने को लेकर निर्देश जारी किए गए हैं। अजमेर डिस्कॉम के एमडी बीएम भामू ने निर्देश जारी कर अजमेर डिस्कॉम के समस्त जोनल चीफ इंजिनियर्स को उनके क्षेत्राधिकार वाले ग्रामीण इलाकों में डिस्कॉम की ओर से तय वक्त के दौरान ही बिजली कटौती करने के निर्देश जारी किए हैं। अजमेर डिस्कॉम के निर्देशों के मुताबिक ग्रामीण क्षेत्रों में ऐसे फीडर जहां निगम को सबसे अधिक घाटा उठाना पड़ रहा है उन फिडर्स में निगम की ओर से रात 12 बजे से सुबह 4 बजे के दौरान ही बिजली कटौती की जाएगी। वहीं, निगम की ओर से क्षेत्रों के सरपंच व स्थानीय विधायक के सहयोग से उक्त कटौती की जाएगी। निगम की ओर से उक्त कटौती ग्रामीण क्षेत्रों के फीडर्स पर लगातार हो रहे घाटे मे कमी लाने के लिए की जाएगी।

निगम दोपहर में तय समय पर ही कर करेगा कटौती...

अजमेर डिस्कॉम एमडी की ओर से जारी आदेशों के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में निगम की ओर से तय समय पर ही विद्य‌ुत कटौती की जाएगी। डिस्कॉम एमडी की ओर से जारी निर्देशों के मुताबिक ग्रामीण क्षेत्रों में विद्य‌ुत लाइनों के रखरखाव, दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण ज्योति योजना, मुख्य मंत्री विद्य‌ुत सुधार अभियान के तहत किए जा रहे कार्यों के दौरान तय समय पर ही विद्य‌ुत कटौती की जाएगी। निगम की ओर से जारी निर्देशों के मुताबिक उक्त कार्यों के दौरान सुबह 8 से 11 बजे व दोपहर 3 से 5 बजे के दौरान ही ग्रामीण क्षेत्रों में विद्य‌ुत कटौती की जाएगी। निगम की ओर से सुबह 11 से दोपहर 3 बजे के दौरान विशेष कारणों के अलावा विद्य‌ुत नहीं की जाएगी।

बगैर सूचना निगम नहीं ले पाएगा शटडाऊन...

विद्य‌ुत वितरण निगम के एमडी बी.एम.भामू की ओर से जारी आदेशों के तहत निगम की ओर से शटडाउन बगैर सूचना के नहीं लिया जाएगा। निगम को ग्रामीण क्षेत्र के किसी क्षेत्र में शट-डाऊन लेने से पूर्व स्थानीय समाचार पत्रों में इसकी सूचना देना अनिवार्य होगा। अजमेर डिस्कॉम एमडी की ओर से जारी निर्देशों के मुताबिक संबंधित अधिकारियों को उक्त निर्देशों को गंभीरता पूर्वक लेना होगा। वहीं, निर्देशों की पालना नहीं करने वाले अधिकारियों पर नियमानुसार कार्यवाही की जाएगी।