--Advertisement--

टीबी क्लीनिक काे शिफ्ट किए जाने पर विरोध

ब्यावर| जिला क्षय रोग निवारण केंद्र के ब्यावर से अजमेर स्थानांतरित करने की कवायद शुरू होते ही शहरवासी इसके विराेध...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 03:25 AM IST
ब्यावर| जिला क्षय रोग निवारण केंद्र के ब्यावर से अजमेर स्थानांतरित करने की कवायद शुरू होते ही शहरवासी इसके विराेध में उतर गए हैं। जिला किसान संघ ब्यावर और जवाजा शाखा के साथ ही नरेंद्र मोदी विचार मंच ने विरोध जताया गया। गुरुवार को जिला क्षय रोग अधिकारी से मिलकर कार्यकर्ताओं ने इसका विरोध जताया।

नरेन्द्र मोदी विचार मंच के कार्यकर्ता टीबी अस्पताल के बाहर पहुंचे और नारेबाजी कर विरोध जताया। विरोध प्रदर्शन के बाद मंच कार्यकर्ताओं ने अस्पताल प्रभारी डॉ. शेखर शर्मा से मुलाकात की तथा टीबी अस्पताल को ब्यावर से अजमेर स्थानांतरित किए जाने का विरोध किया। मंच के प्रदेश उपाध्यक्ष मुकेश सोनी के नेतृत्व में एकत्रित हुए मंच कार्यकर्ता टीबी अस्पताल पहुंचे तथा अस्पताल के बाहर अस्पताल के ब्यावर से अजमेर स्थानांतरित करने के विरोध में नारेबाजी की। जिला क्षय अस्पताल की आवश्यता ब्यावर उपखंड में है इसे किसी भी सूरत में स्थानांतरित नहीं किया जाएगा। टीबी अस्पताल को अजमेर स्थानांतरित किए जान से सिलिकोसिस संदिग्धों की जांच पर असर पडेगा। हालांकि इस संबंध में अधिकारियों का कहना है कि टीबी क्लिनिक को अजमेर शिफ्ट नहीं किया जा रहा है बल्कि डीटीबीओ कार्यालय को अजमेर शिफ्ट किया जा सकता है, जिससे क्लिनिक पर कोई असर नहीं होगा। न्यूमोकोनोसिस बोर्ड के महीने में एक ही बार कार्य करने के कारण सिलिकोसिस संदिग्धों की जांच समय पर नहीं हो पा रही है। बोर्ड में डिस्ट्रिक्ट ट्यूबर क्लोसिस ऑफिसर का होना भी जरूरी है। डीटीओ के अजमेर जाने से सिलिकोसिस संदिग्धों की जांच में फिर से बाधा आ सकती है। गुरुवार को विरोध प्रदर्शन के दौरान मुकेश सोनी, सज्जनसिंह चौहान, अनिल बंसल, नंदू कोठारी, अशोक भंभानी, प्रीतम शिशोदिया, भावेश गंगवानी, दीपक शर्मा, अनिल जांगिड आदि मौजूद थे।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..