पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सीआरपीएफ के जीसी-2 को दो माह में तीन ट्राफियां

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
अजमेर| सीआरपीएफ राजस्थान सेक्टर के आईजी सुनील सिंह ने कहा कि जवान विषम से विषम परिस्थितियों से निपटने के लिए खुद को हमेशा तैयार रखें। इसके लिए नियमित रूप से व्यायाम करें आैर योजनाबद्ध तरीके से काम करें। आईजी सिंह बुधवार को सीआरपीएफ के ग्रुप सेंटर-2 में नवनिर्मित क्वार्टरों के उद्घाटन आैर ट्रॉफी एवं मैडल वितरण समारोह में बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे थे।

उन्होंने जवानों के बीच अपने जीवन के कटु अनुभव शेयर किए आैर कठिन परिस्थितियों में डटे रहने के लिए प्रेरित किया। इस मौके पर डीआईजी आरजीआर भट्ट, सुमेर सिंह शेखावत, जेएन कोहली, अनिल ढ़ौंडियाल आैर जेएन मीणा सहित अन्य आला अधिकारी मौजूद थे।

जीसी-2 ने पिछले दो माह में अपने नाम दर्ज कराई 3 महत्वपूर्ण ट्राफियां
समारोह के शुभारंभ के साथ डीआईजी सुमेर सिंह द्वारा सभी अतिथियों का स्वागत किया गया। उन्होंने जानकारी दी कि विगत दो माह में जीसी-2 ने बेस्ट पेंशन प्रोसेसिंग जीसी एट फोर्स लेवल, रनर अप जीसी इन द कैटेगरी ऑफ बेस्ट एंब्रायडरी एंड पेच वर्क आैर रनिंग ट्रॉफी ऑफ बेस्ट कॉस्ट इफेक्टिवनेस एंड फाइनेंशियल डिसिप्लिन अपने नाम दर्ज करवाई। यह बड़ी उपलब्धी है।

मुख्य अतिथि आईजी सुनील सिंह ने तीनों ट्रॉफी जीतने के लिए जीसी-2 के जवानों आैर अधिकारियों की पीठ थपथपाई। उन्होंने विजेता कार्यालयों आैर पदक प्राप्तकर्ताआें बधाई देकर उनकी हौसला अफजाई की।

इस मौके पर जीसी-2 को राजस्थान सेक्टर की सर्वोत्तम वित्तीय अनुशासन एवं व्यय प्रभावकारिता चल वैजयंती से नवाजा गया। समारोह के अंत में जीजी-2 प्रशासन की आेर से सभी आगन्तुकों को धन्यवाद ज्ञापित किया गया।

खबरें और भी हैं...