--Advertisement--

संकीर्ण सोच वाले व्यक्ति का नहीं होता विकास

पीपलिया बाजार स्थित समता भवन आयोजित किए जा रहे प्रवचनों में उपस्थित श्रावक-श्राविकाओं को संबोधित करते हुए शासन...

Dainik Bhaskar

Jun 04, 2018, 02:20 AM IST
पीपलिया बाजार स्थित समता भवन आयोजित किए जा रहे प्रवचनों में उपस्थित श्रावक-श्राविकाओं को संबोधित करते हुए शासन दीपिका सुमेरु ने कहा कि आज हम हर छह महीने में मोबाइल बदल देते हैं। पहले मकान छोटा कपड़ा बड़ा होता था। वहीं, अब मकान बड़े होते जा रहे हैं।

उन्होने कहा कि नीची सोच वाला व्यक्ति कभी आगे नहीं बढ़ पाता है। उन्होंने बताया कि मन दो प्रकार के होते हैं द्रव्य मन व भाव मन। द्रव्य मन में चोरी हिंसा झूठ कपट आदि हैं तथा भाव मन में सत्य, अहिंसा व अच्छे भाव होते हैं।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..