Hindi News »Rajasthan »Beawar» आधे स्टाफ के भरोसे मौसमी बीमारियों से निपटने की तैयारी

आधे स्टाफ के भरोसे मौसमी बीमारियों से निपटने की तैयारी

ब्यावर| एक तरफ तेजी से चढ़़ते पारे ने मौसमी बीमारियों के मरीज बढ़ा दिए हैं वहीं राजकीय अमृतकौर अस्पताल लंबे अर्से से...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 08, 2018, 02:20 AM IST

ब्यावर| एक तरफ तेजी से चढ़़ते पारे ने मौसमी बीमारियों के मरीज बढ़ा दिए हैं वहीं राजकीय अमृतकौर अस्पताल लंबे अर्से से डॉक्टरों और नर्सिंग कर्मचारियों की कमी से जूझ रहा है। अस्पताल में 58 से ज्यादा कर्मचारियों की कमी के चलते स्वास्थ्य सेवाओं पर विपरीत असर हो रहा है। अमृतकौर अस्पताल में डॉक्टरों और नर्सिंग कर्मियों के 150 से ज्यादा पद स्वीकृत है। जिनमें से 58 से ज्यादा पद रिक्त चल रहे हैं। ये पद भी उस समय स्वीकृत हुए थे जब शहर की आबादी 1 लाख से कम थी। 300 बेड वाले अमृतकौर अस्पताल में कई विभाग तो जूनियर के भरोसे ही चल रहे हैं जबकि यहां का आउटडोर और इनडोर कई जिला अस्पतालों से ज्यादा है। अस्पताल में डॉक्टरों और नर्सिंगकर्मियों की ही नहीं बल्कि कई तकनीकी कर्मचारियों की भी भारी कमी है। सरकार निशुल्क दवा और जांच योजना चला रही है, लेकिन कर्मचारियों की कमी के कारण इन योजनाओं का सुचारू क्रियान्वन नहीं हो पा रहा है। स्थिति ये है कि आधे निशुल्क दवा काउंटरों पर तो फार्मासिस्ट ही नहीं है और वहां हैल्परों के भरोसे मरीज हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |
Web Title: आधे स्टाफ के भरोसे मौसमी बीमारियों से निपटने की तैयारी
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Beawar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×