--Advertisement--

डाक सेवकों ने अर्द्धनग्न होकर किया प्रदर्शन

ब्यावर | सरकार की ओर से पूर्व में किए गए वादों को लागू नहीं करने तथा विभिन्न मांगों को लेकर मंगलवार से अखिल भारतीय...

Dainik Bhaskar

May 30, 2018, 02:25 AM IST
ब्यावर | सरकार की ओर से पूर्व में किए गए वादों को लागू नहीं करने तथा विभिन्न मांगों को लेकर मंगलवार से अखिल भारतीय ग्रामीण डाक सेवक कर्मचारी यूनियन के आह्वान पर शुरू की गई ग्रामीण डाक सेवकों की हड़ताल मंगलवार को भी जारी रही। हड़ताल के दौरान ग्रामीण डाकसेवकों ने अर्द्धनग्न होकर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। डाकसेवकों ने नारेबाजी कर अपनी मांगों के समर्थन में सरकार से जल्द मांगों पर विचार करने की अपील की। ग्रामीण डाक सेवकों के हड़ताल पर उतर जाने के कारण ग्रामीण क्षेत्र की डाक सेवाएं चरमरा गई हैं।

ग्रामीण क्षेत्रों में पत्रादि नहीं बंट रहे हैं जिसके कारण आमजन को परेशानियों का सामान करना पड़ रहा है। वर्तमान में प्रतियोगी परीक्षाओं को दौर चल रहा है और बेरोजगार युवाओं को अपने प्रवेश पत्र तथा साक्षात्कार पत्र संबंधी पत्रों का इंतजार रहता है। ऐसे में बेरोजगारों तथा पेंशन प्राप्त करने वाले वृद्धजनों, विधवा महिलाओं तथा मनरेगा श्रमिकों को समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। मुख्य डाकघर में डाकों के ढेर लग गए है। मंगलवार को भी हड़ताली कर्मचारियों ने मुख्य डाकघर के बाहर अपनी मांगों के समर्थन में सरकार के खिलाफ आक्रोश जताया। हड़ताली कर्मचारियों ने एक बार फिर सरकार को चेताया कि जब तक उनकी मांगों पर ध्यान नहीं दिया जाएगा तब तक हड़ताल जारी रहेगी। हड़ताल के दौरान मंडल सचिव नवल श्रीमाली, राधेश्याम पोरवाल, घनश्याम भट्ट, इंद्रचंद शर्मा, नरेन्द्र बालोटिया, अनिल चतुर्वेदी, नंदसु राम, अमरसिंह, आलोकसिंह, प्रशांत कुर्डिया, कौशलकिशोर, नरेन्द्रसिंह, रामेश्वरलाल, दिनेश फुलवारी, अखेवीर, मनीष सांखला, ननचूराम सैनी तथा प्रेमप्रकाश भट्ट सहित अन्य कर्मचारी शामिल थे।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..