Hindi News »Rajasthan »Beawar» निर्माणाधीन उप-स्वास्थ्य केंद्र का विरोध

निर्माणाधीन उप-स्वास्थ्य केंद्र का विरोध

सेदरिया चौराहे पर निर्माणाधीन उप-स्वास्थ्य केंद्र को लेकर मंगलवार को चीता-मेहरात (काठात) समाज के लोगों ने विरोध...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 30, 2018, 02:25 AM IST

निर्माणाधीन उप-स्वास्थ्य केंद्र का विरोध
सेदरिया चौराहे पर निर्माणाधीन उप-स्वास्थ्य केंद्र को लेकर मंगलवार को चीता-मेहरात (काठात) समाज के लोगों ने विरोध जताया। इस दौरान उपखंड कार्यालय में गृहमंत्री कटारिया के आगमन पर लोगों ने उन्हें भी ज्ञापन सौंपकर समस्या से अवगत कराते हुए उप-स्वास्थ्य केंद्र निर्माण रोकने की मांग की।

राजस्थान चीता-मेहरात (काठात) समाज की देदाजी का बास शाखा के मंत्री पीरू काठात के नेतृत्व में पहुंचे लोगों ने बताया कि सेदरिया चौराहे पर विवादित खसरा नंबर 432 और 433 पर गांव के मूल निवासी नारायण, शंकर व अन्य के परिवार का चार पीढिय़ों से कब्जा था। जिसे नगर परिषद कर्मचारियों ने पुलिस के जोर पर जबरन छीन कर वहां निर्माण कार्य शुरू कर दिया। लोगों का आरोप है कि मौजा सेदरिया में इसी प्रकार पुराने कब्जेधरी लोग हैं जिनके कब्जे बरकरार हैं उनके कब्जे नहीं हटाए गए केवल एक परिवार को ही इस प्रकार पुलिस के सहयोग से बेदखल करना भेदभावपूर्ण है। उन्होंने मांग की है कि खसरा नंबर 432 और 433 की विवादित जमीन पर निर्मित हो रहे उप स्वास्थ्य केंद्र के कार्य को रोका जाए साथ ही उक्त निर्माण उसी खसरे पर किया जाए जो इस कार्य के लिए पूर्व में आवंटित किया गया। ठेकेदार को वर्क ऑर्डर जाहं के लिए दिया गया वही कार्य करने के निर्देश प्रदान किए जाएं। उन्होंने चेतावनी दी कि यदि उक्त निर्माण कार्य को नहीं रोका गया तो समाज मौके पर धरना-प्रदर्शन व आंदोलन किया जाएगा। विरोध जताने वालों में देदाजी का बास के मंत्री पीरू काठात, राजस्थान चीता-मेहरात काठात महासभा अध्यक्ष प्रो. जलालु्द्दीन काठात, पूर्व लुकमान काठात, मंगला काठात, किशना, हाकम, कमरुद्दीन, खाजू, रोशन, नजीर, मेहमद, मदन, श्रवण, रहीमा, मोती, सिकंदर, लूम्बा, शकरुद्दीन, युसुफ, बिरदा, अल्लादीन, निजामुदीन, रसूल, फिरोज सहित अन्य लोग मौजूद थे।

ब्यावर. गृहमंत्री को ज्ञापन सौंपते काठात समाज के प्रोफेसर जलालुद्दीन काठात।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Beawar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×