Hindi News »Rajasthan »Beawar» एनएचएम के इंजीनियरों की टीम करेगी सर्वे, एकेएच परिसर में बनेगा एसटीपी प्लांट, सुधरेगी एकेएच के सीवरेज की दशा

एनएचएम के इंजीनियरों की टीम करेगी सर्वे, एकेएच परिसर में बनेगा एसटीपी प्लांट, सुधरेगी एकेएच के सीवरेज की दशा

लंबे अर्से से सीवरेज के पानी की सुचारू निकासी के अभाव के कारण गंदगी और संक्रमण के खतरे से जूझ रहे अमृतकौर अस्पताल...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 04, 2018, 02:25 AM IST

एनएचएम के इंजीनियरों की टीम करेगी सर्वे, एकेएच परिसर में बनेगा एसटीपी प्लांट, सुधरेगी एकेएच के सीवरेज की दशा
लंबे अर्से से सीवरेज के पानी की सुचारू निकासी के अभाव के कारण गंदगी और संक्रमण के खतरे से जूझ रहे अमृतकौर अस्पताल और यहां इलाज के लिए आने वाले पांच जिलों के मरीजों के लिए राहत भरी खबर है। सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट के लिए राजकीय अमृतकौर अस्पताल में सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट के लिए 1 करोड़ 23 लाख का बजट एनएचएम को जारी कर दिया है।

पीएमओ डॉ. एमके जैन ने बताया कि 123 लाख का बजट जारी होने के बाद एनएचएम के इंजीनियरों की टीम ने एकेएच का निरीक्षण किया। हालांकि टीम सीवरेज ट्रीटमेंट और प्लांट के लिए लाइन का सर्वे करेगी। इसके बाद जल्द ही एकेएच में सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट का कार्य शुरू कर दिया जाएगा। एकेएच में सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट बनकर तैयार होने के बाद इससे निकलने वाली गंदगी खेतों को सेहत सुधरेगी। सीवरेज के गंदे पानी काे रिसाइकल कर उससे सिंचाई की जाएगी।

123 लाख की लागत से एकेएच में बनेगा सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट

123 लाख के बजट से बनेगा प्लांट...

एनएचएम के इंजीनियर सीपी संचेती ने बताया कि एकेएच में बनने वाले सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट के लिए एनएचएम को 1 करोड़ 23 लाख रुपए का बजट मिला है। प्लांट के लिए निविदाएं निकाली गई है। प्लांट के लिए अलग और लाइनों के लिए अलग टेंडर किए जाएंगे। इसके बाद विशेषज्ञों की देखरेख में एसटीपी प्लांट का कार्य शुरू कर दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि एकेएच की पुरानी बिल्डिंग के सीवरेज प्लांट की नई लाइनें बिछाई जाएगी और पीछे बने मदर चाइल्ड विंग के सीवरेज प्लांट से जोड़ा जाएगा। इसके साथ ही पुरानी बिल्डिंग के सीवरेज लाइनों की मरम्मत भी होगी जिससे पानी की निकासी में आ रही समस्या से भी निजात मिल सकेगी। पीएमओ डॉ. जैन ने बताया कि नर्सिंग कर्मचारियों के पुराने क्वार्टरों के समीप सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट बनाया जाएगा। उन्होंने बताया कि सीवरेज प्लांट में मदर चाइल्ड विंग और एकेएच की पुरानी बिल्डिंग की सीवरेज लाइनों को जोड़ा जाएगा।

एमआरएस को होगी अतिरिक्त आय

सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट में बचे हुए अपशिष्ट से बनने वाली खाद की नीलामी से एमआरएस को अतिरिक्त आय होगी। गौरतलब है कि सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट के अपशिष्ट से खाद बनाई जा सकती है। एकेएच में काम आने वाले सिंचाई याेग्य पानी के बाद बचने वाले पानी और खाद की नीलामी की जाएगी।

ऐसे बनेगी खाद

एकेएच के सीवरेज का लेवल का सर्वे कर ड्रेनेज सिस्टम तैयार किया जाएगा। इसमें करीब 2 लाख लीटर सीवर का पानी प्रतिदिन जमा होगा। इससे अत्याधुनिक मशीनों की सहायता से गंदे पानी का ट्रीटमेंट कर सिंचाई के योग्य बनाया जाएगा। जिससे अस्पताल में विकसित हो रहे गार्डन और आस पास के खेतों तक सिंचाई के लिए पानी पहुंचाने के लिए पाइप लाइन की मदद ली जाएगी। इसके साथ ही पानी को सरंक्षित रखने के लिए स्टोरेज टैंक भी बनेगा। अतिरिक्त पानी को नाले की सहायता से आगे भेज दिया जाएगा। वहीं बचे हुए अपशिष्ट से खाद तैयार करने की भी योजना है।

इनका कहना है

ब्यावर एकेएच में लगने वाले सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट के लिए प्रोसेस शुरू कर दिया है। इसके लिए निविदा निकाली जा चुकी है। संभव है अगले 10 दिन में इसका कार्य शुरू हो जाएगा। ट्रीटमेंट प्लांट और सीवरेज लाइनों के लिए अलग अलग टेंडर किए जाएंगे। एक ही फर्म द्वारा टेंडर दिया गया है। जिस कारण निदेशालय से स्वीकृति मांगी गई है।” -सीपी संचेती, अभियंता एनएमएच

एकेएच में सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट के लिए 123 लाख का बजट एनएचएम को मिल गया है। इसके बाद ड्रेनेज सिस्टम में आ रही परेशानी से जल्द ही निजात मिल जाएगी। इसके लिए एकेएच के पीछे एमसीएच विंग के सामने एसटीपी(सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट) बनाया जाएगा। 123 लाख के बजट से ट्रीटमेंट प्लांट बनेगा। जिससे सीवरेज के पानी को फिर से काम में लिया जा सकेगा और अपशिष्ट से खाद भी बनाई जा सकेगी। अगले माह तक इसका कार्य शुरू होने की उम्मीद है।” -डॉ. एमके जैन, पीएमओ, एकेएच

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Beawar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×