ब्यावर

--Advertisement--

मेहनत रंग लाने लगी, नाले से नजर आने लगी नदी

नगर परिषद जनसहभागिता के तहत शहर की एकमात्र छावनी नदी की सुध लेते 11 दिन पहले जो अभियान शुरू किया था उसकी मेहनत अब रंग...

Dainik Bhaskar

Jun 05, 2018, 02:25 AM IST
मेहनत रंग लाने लगी, नाले से नजर आने लगी नदी
नगर परिषद जनसहभागिता के तहत शहर की एकमात्र छावनी नदी की सुध लेते 11 दिन पहले जो अभियान शुरू किया था उसकी मेहनत अब रंग लाने लगी है। नाले में तब्दील होती छावनी नदी अब नजर आने लगी है। सोमवार को निरीक्षण करने के बाद सभापति बबीता चौहान ने अभियान में जुटे अधिकारियों को दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि बारिश शुरू होने तक इसके आखिरी मुहाने तक सफाई कार्य जारी रहेगा। इसके लिए भामाशाह आगे आकर सहयोग को तत्पर है।

बिचड़ली तालाब की पाल से शुरू होकर 4 किलोमीटर का सफर कर मकरेड़ा तालाब तक पहुंचने वाली इस नदी के रास्ते को साफ करने का अभियान परिषद ने 24 मई से शुरू किया था। इस अभियान की खास बात यह है कि नगर परिषद प्रशासन ने भामाशाहों से सहयोग जुटाना शुरू किया है।

छावनी पुलिया से नजर आने लगी सतपुलिया

सोमवार को निरीक्षण के लिए छावनी पुलिया केसमीप पहुंची सभापति बबीता चौहान अभियान को लेकर संतोष जताया। उन्होंने कहा कि ऐसा पहली बार होगा जब छावनी पुलिया से सतपुलिया स्पष्ट नजर आ रही हो। बारिश शुरू होने से पहले इसके आखिरी मुहाने तक सफाई अभियान जारी रहेगा। इसके लिए भामाशाह भी सहयोग करने को तत्पर है। निरीक्षण के दौरान पार्षद मंगतसिह, भाजपा नेता नरेंद्र सिंह चौहान सहित अन्य लोग मौजूद थे।

इस कार्य में भामाशाहों की ओर से चार जेसीबी उपलब्ध कराई गई है जो नदी की सफाई में जुटी है। सभापति ने बताया कि जेसीबी का काम खत्म होने के बाद नदी की सफाई के लिए पॉकलेन मशीन भी लगाई जाएगी। जिससे बारिश पहले यह अपने मूल स्वरूप में आ सके। इस मौके पर अभियान में जुटे रतनसिंह पंवार व अन्य को सभापति ने आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

ब्यावर. सफाई अभियान का निरीक्षण करने के बाद निर्देश देती सभापति।

X
मेहनत रंग लाने लगी, नाले से नजर आने लगी नदी
Click to listen..