--Advertisement--

30 लाख से ज्यादा का सट्टा पकड़ा, 5 आरोपी गिरफ्तार

ट्रेनी आईपीएस डॉ. अमृता ने आईपीएल मैच पर सट्टे के खिलाफ शुक्रवार रात दो स्थानों पर कार्रवाई करते 30 लाख से अधिक का...

Danik Bhaskar | May 13, 2018, 02:35 AM IST
ट्रेनी आईपीएस डॉ. अमृता ने आईपीएल मैच पर सट्टे के खिलाफ शुक्रवार रात दो स्थानों पर कार्रवाई करते 30 लाख से अधिक का सट्टा पकड़ा। इस दौरान पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। हालांकि देर रात ही आरोपियों को जमानत मिल गई लेकिन मौके पर मिले सामान को जब्त कर लिया गया। सिटी थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी।

जानकारी के अनुसार ट्रेनी आईपीएस डॉ. अमृता के निर्देशन में पुलिस ने शुक्रवार रात मुखबिर इत्तला पर कार्रवाई करते हुए जालिया रोड स्थित प्रताप कॉलोनी निवासी जसराज के मकान पर दबिश दी। मकान के पहली मंजिल पर बने कमरे में छापा मार कर तलाशी ली गई। जहां टीवी पर आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच मैच चल रहा था। तीन युवक लेपटॉप पर सट्टे का हिसाब रख रहे थे। जिस पर पुलिस ने तीनों आरोपी साकेत नगर निवासी रूपेश सांखला(29), शाहपुरा मोहल्ला निवासी संजय गर्ग(39) और प्रताप कॉलोनी निवासी दीपक(26) को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों के कब्जे से पुलिस ने 7 हजार 450 रुपए की नगदी समेत एक लेपटॉप, टीवी, 10 मोबाइल समेत अन्य उपकरण जब्त कर लिए। लेपटॉप में आईपीएल मैचों पर लगाया जा चुके सट्टे का 30 लाख, 62 हजार 307 रुपए का हिसाब मिला। कार्रवाई करने वालों में एएसआई सूरजमल, कांस्टेबल हरेंद्र, धूणीलाल, लक्ष्मण चौधरी समेत अन्य शामिल थे।

एक दिन में दो कार्रवाई…

प्रोबेशनर आईपीएस डॉ. अमृता के ब्यावर में कार्रवाई करने के दौरान ही इत्तला मिली कि पास ही गणेशपुरा रोड पर भी सट्टे का गौरखधंधा चल रहा है। जिस पर आईपीएस के निर्देशन में गणेशपुरा में भी दबिश दी गई। गणेशपुरा स्थित प्रकाश के मकान में दबिश देकर वहां भी राजस्थान रॉयल्स और चेन्नई सुपर किंग्स के मैच पर लगाए जा रहे सट्टे का भंडाफोड़ किया। मौके से पुलिस ने जैतपुरा भीम निवासी फिरोज खां(28) आर गणेशपुरा रोड निवासी पंकज उर्फ शिबू(32) को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों के कब्जे से पुलिस ने 20 हजार 230 रुपए की नगदी समेत 4 मोबाइल, एलसीडी समेत अन्य सामान जब्त कर लिए। आरोपियों के कब्जे से मिले रजिस्टर में 4 लाख 2 हजार 500 रुपए का हिसाब मिला है। कार्रवाई के दौरान एएसआई बाबूलाल, कांस्टेबल गोपाराम, पंकज समेत अन्य शामिल थे। गौरतलब है कि ब्यावर सट्टेबाजी का एक बड़ा केंद्र है। सालों से ब्यावर में सट्टे के खिलाफ कई कार्रवाई होने के बावजूद शहर में सट्टे का काला काराेबार थमने का नाम नहीं ले रहा है। सट्टे के दलदल में फंस कर कई युवा अपनी जान से हाथ धो बैठे हैं।

आईपीएस की बड़ी कार्रवाई…

गौरतलब है कि मांगलियावास थाना प्रभारी के पद पर बतौर प्रोबेशनर तैनात प्रशिक्षु आईपीएस डॉ. अमृता की ये शहर में दो दिनों में दूसरी बड़ी कार्रवाई है। इससे पूर्व गुरुवार को भी डॉ. अमृता ने शहर में अवैध शराब की ब्रांच समेत ब्रांडेड के नाम पर नकली एलसीडी बेचने के गोरखधंधे का खुलासा किया था।