--Advertisement--

मदर चाइल्ड विंग की लिफ्ट 15 दिन से खराब

राजकीय अमृतकौर अस्पताल की तीन मंजिला गायनिक विंग की लिफ्ट पिछले 15 दिन से खराब पड़ी है। लिफ्ट खराब होने के बावजूद...

Dainik Bhaskar

Apr 17, 2018, 03:25 AM IST
मदर चाइल्ड विंग की लिफ्ट 15 दिन से खराब
राजकीय अमृतकौर अस्पताल की तीन मंजिला गायनिक विंग की लिफ्ट पिछले 15 दिन से खराब पड़ी है। लिफ्ट खराब होने के बावजूद अस्पताल प्रबंधन की ओर से लिफ्ट का इंस्टॉलेशन करने वाली कंपनी ओटिस को ऑन लाइन टोल फ्री नंबर पर शिकायत नहीं दी गई है। जिसका खामियाजा प्रसूताओं और गर्भवती महिलाओं को उठाना पड़ रहा है। प्रसूताओं को प्रथम तल पर बने वार्ड में ले जाने के लिए व्हील चेयर या ट्रॉली का सहारा लेना पड़ रहा है। एकेएच की अधिकतर ट्रॉलियां खराब होने के कारण प्रसूताओं और गर्भवती महिलाओं की सुरक्षा खतरे में हैं।

हर माह खराब हो रही लिफ्ट: गौरतलब है कि बार बार फेस रिवर्ट होने के कारण गायनिक विंग की लिफ्ट कई बार खराब हो चुकी है। कंपनी ओटिस के टेक्नीशियन अरुण सोलंकी की मानें तो लिफ्ट को थ्री फेस की जरूरत है और आए दिन फेस के रिवर्ट होने के कारण लिफ्ट खराब हो जाती है। उन्होंने बताया कि लिफ्ट में एक लिफ्ट मैन परमानेंट होना चाहिए। ताकि मरीजों और परिजनों पर नजर रखी जा सके। मदर चाइल्ड विंग में स्थापित लिफ्ट में डोर सेंसर लगे हैं। ताकि इसमें मरीज या परिजन के शरीर का कोई भी अंग गेट में ना फंसे। सुरक्षा की दृष्टि से लिफ्ट में एक सुरक्षा गार्ड भी तैनात होना चाहिए। लेकिन पूरी विंग में एक ही गार्ड तैनात है जो नीचे आउटडोर में और वार्ड में ध्यान रखता है। ऐसे में लिफ्ट का मिस यूज होता है। बार बार लिफ्ट के डोर को खोलने और बंद करने से उसका सेंसर भी खराब हो गया।

शिकायत मिलेगी तो 24 घंटे में होगी तैया

कंपनी के इंजीनियर ने बताया कि लिफ्ट खराब है इसकी जानकारी कपंनी को नहीं है। अरूण सोलंकी ने बताया कि कंपनी द्वारा एक टोल फ्री नंबर प्रोवाइड करवाया गया है। उस पर कॉल कर शिकायत दर्ज करवाने के 24 घंटे के दरमियान कंपनी का इंजीनियर आकर लिफ्ट को चैक करेगा।

अमृतकौर अस्पताल में खराब पड़ी लिफ्ट।

X
मदर चाइल्ड विंग की लिफ्ट 15 दिन से खराब
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..