Hindi News »Rajasthan »Beawar» लोगों का विरोध हटाएं या जीएसएस निर्माण के लिए आवंटित करें अन्यत्र भूमि

लोगों का विरोध हटाएं या जीएसएस निर्माण के लिए आवंटित करें अन्यत्र भूमि

सेंदड़ा रोड स्थित बापू नगर में फैसेलिटी भूमि पर प्रस्तावित जीएसएस का निर्माण पिछले कई माह से अटका हुआ है। फैसेलिटी...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 26, 2018, 03:25 AM IST

सेंदड़ा रोड स्थित बापू नगर में फैसेलिटी भूमि पर प्रस्तावित जीएसएस का निर्माण पिछले कई माह से अटका हुआ है। फैसेलिटी भूमि पर जीएसएस निर्माण को लेकर मामूली विरोध के चलते अब तक मौके पर जीएसएस का निर्माण शुरू नहीं हो पाया है। इसे लेकर अब तक विद्य‌ुत वितरण निगम की ओर से नगर परिषद व तहसील प्रशासन को पत्र लिखकर मौके पर हो रहे मामूली विरोध को दूर करने के लिए गुजारिश कर चुका है, परंतु नगर परिषद व स्थानीय प्रशासन अब तक मामूली से विरोध को दूर करने में सफल नहीं हो पाया है। विद्युत वितरण निगम के अधिकारियों ने अब नगर परिषद को पत्र लिखकर विरोध दूर करने या जीएसएस निर्माण के लिए अन्यत्र भूमि आवंटित करने के लिए पत्र लिखा है।

गौरतलब है कि निगम को काफी प्रयासों के बाद शहर में दो स्थानों पर जीएसएस निर्माण के लिए भूमि आवंटित हुई थी। जहां पर एक ओर जय मंदिर के समीप स्थित लौहार बस्ती के पीछे निगम की ओर से जीएसएस का निर्माण शुरू कर दिया गया है। दूसरी ओर अब तक सेंदड़ा रोड स्थित बापू नगर के समीप निगम को आवंटित भूमि पर अब कुछ लोगों के निजी स्वार्थ के चलते किए जा रहे विरोध के कारण अब तक जीएसएस का निर्माण शुरु तक नहीं हो पाया है। शहरी क्षेत्र के विद्य‌ुत तंत्र को मजबूती प्रदान करने के लिए लगभग 5 करोड़ की लागत से सेंदड़ा रोड पर जीएसएस का निर्माण कराया जाना प्रस्तावित है। लगातार बढ़ते विद्य‌ुत दबाव के चलते शहर में प्रस्तावित दोनों ही जीएसएस उपभोक्ताओं को निर्बाध बिजली उपलब्ध कराए जाने के लिए बेहद जरूरी है। वहीं जीएसएस निर्माण में देरी होने का खामियाजा विद्य‌ुत उपभोक्ताओं को उठाना पड़ेगा।

नए जीएसएस बनने के बाद शहरी उपभोक्ताओं को बेहतर बिजली सुविधाएं मिलेंगी। गौरतलब है कि फिलहाल मौजूदा विद्य‌ुत तंत्र में लगातार बढ़ते विद्य‌ुत भार के कारण उपभोक्ताओं को आए दिन ट्रिपिंग व कम वोल्टेज की समस्या से दो-चार होना पड़ता है।

वर्ष 2012 में हुआ था जीएसएस का निर्माण

विद्य‌ुत वितरण निगम की ओर से वर्ष 2012 में गड्‌ढी थोरियान पर जीएसएस का निर्माण करवाया गया था। इस दौरान मसूदा रोड क्षेत्र में नई विद्य‌ुत लाइन डाली गई थी। आठ साल में लगातार निगम में उपभोक्ताओं की संख्या बढ़ोतरी होने के बाद विद्य‌ुत तंत्र पर दबाव भी बढ़ है। आठ साल बाद अब लौहार बस्ती के समीप जीएसस का निर्माण शुरु करवाया गया है।

बापू नगर में क्षेत्रवासियों के विरोध चलते जीएसएस निर्माण शुरू नहीं हो पाया है। निगम की ओर से नगर परिषद को पत्र लिखकर आवंटित भूमि पर हो रहे रहे विरोध को दूर करने या जीएसएस के लिए अन्यत्र भूमि आवंटित करने के लिए कहा गया है। आशीष खंडेलवाल, कनिष्ठ अभियंता, सीएसडी प्रथम, ब्यावर

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Beawar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×