Home | Rajasthan | Beawar | आशा कार्यकर्ताओं को समय पर लक्ष्य पूरे करने के दिए निर्देश

आशा कार्यकर्ताओं को समय पर लक्ष्य पूरे करने के दिए निर्देश

अमृतकौर अस्पताल की मदर चाइल्ड विंग में शुक्रवार को आशा कार्यकर्ताओं की मासिक बैठक का आयोजन किया गया। डॉ. राजेंद्र...

Bhaskar News Network| Last Modified - May 26, 2018, 03:25 AM IST

आशा कार्यकर्ताओं को समय पर लक्ष्य पूरे करने के दिए निर्देश
आशा कार्यकर्ताओं को समय पर लक्ष्य पूरे करने के दिए निर्देश
अमृतकौर अस्पताल की मदर चाइल्ड विंग में शुक्रवार को आशा कार्यकर्ताओं की मासिक बैठक का आयोजन किया गया। डॉ. राजेंद्र तापड़िया की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में आशा कार्यकर्ताओं की फॉलाेअप रिपोर्ट की जांच की समीक्षा की गई। मीटिंग में आशा कार्यकर्ताओं को अपने लक्ष्यों को समय पर पूरा करने के निर्देश दिए गए। इस दौरान सभी को ओआरएस, मीजल्स तथा कुष्ठ रोग के बारे में जानकारी देते हुए अपने-अपने क्षेत्र में इसका पता लगाने के साथ-साथ दस्त नियंत्रण पखवाड़ा बनाने के भी निर्देश दिए। इस दौरान लू तथा तापघात के बारे में जानकारी देते हुए इससे पीड़ित लोगों को तुरंत दवा उपलब्ध करवाने तथा गंभीर अवस्था में रोगी को अस्पताल पहुंचाने की व्यवस्था करने के लिए निर्देशित किया। बैठक में 21-22 जून को नगर परिषद में न्याय आपके द्वार शिविर में अपने-अपने क्षेत्र के लोगों को अधिक से अधिक लोगों को लाने तथा उनकी समस्याओं का निस्तारण करने को कहा। बैठक में डॉ. स्वाति शर्मा, साधना, नेमीश कटारिया, चंद्रवीरसिंह अखावत, दीपेश भोजवानी, रामकन्या, विष्णु पंवार, ममता तथा जूली शर्मा सहित अन्य आशा सहयोगिनियां उपस्थित थी।

नहीं मिल रहा पीसीटीएस नंबर : आशा कार्यकर्ताओं ने मीटिंग में रोष प्रकट करते हुए बताया कि कुछ समय पूर्व आशा कार्यकर्ताओं का डिवाइडेशन कर दिया गया। लेकिन सिटी डिस्पेंसरी में कार्यरत कंप्यूटर ऑपरेटर द्वारा उन्हें पीसीटीएस नहीं दिया जा रहा है। ऐसे में प्रसूताओं को जननी शिशु सुरक्षा योजना के तहत मिलने वाले कई लाभ से वंचित होना पड़ रहा है। इस संबंध में डॉ. तापड़िया ने उन्हें आश्वासन दिया कि वह इस संबंध में ऑपरेटर को निर्देशित करेंगे। ऑपरेटर को ब्यावर एकेएच में प्रशिक्षण दिलवाया जाएगा।

सुविधाओं के अभाव पर भी जताया रोष : मीटिंग के दौरान आशा कार्यकर्ताओं ने रोष जताया कि तेज गर्मी में जहां खुद उन्हें घर घर सर्वे कर धूप से बचाव के लिए बार बार साफ पानी पीने के लिए लोगों को जागरूक करना होता है तो वहीं दूसरी और 2 से 3 घंटे तक चलने वाली मीटिंग में पीने के पानी के साथ ही कार्यकर्ताओं के बैठने की भी कोई व्यवस्था नहीं है। इस पर नर्सिंग अधीक्षक चंद्रवीर सिंह अखावत ने निर्देश दिए कि अगली मीटिंग में आशा कार्यकर्ताओं के लिए पीने के पानी की व्यवस्था जरूर होनी चाहिए।

ब्यावर. अमृतकौर अस्पताल में आयोजित बैठक में मौजूद आशा कार्यकर्ता।

prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now