Hindi News »Rajasthan »Beawar» पानी के लिए उतरा यात्री दो बसों के बीच फंसा, अस्पताल में दम तोड़ा

पानी के लिए उतरा यात्री दो बसों के बीच फंसा, अस्पताल में दम तोड़ा

रोडवेज डिपो प्रशासन की लापरवाही बनी जानलेवा भास्कर न्यूज| ब्यावर शहर के रोडवेज बस स्टैंड पर दो बसों के बीच...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 01, 2018, 03:30 AM IST

  • पानी के लिए उतरा यात्री दो बसों के बीच फंसा, अस्पताल में दम तोड़ा
    +1और स्लाइड देखें
    रोडवेज डिपो प्रशासन की लापरवाही बनी जानलेवा

    भास्कर न्यूज| ब्यावर

    शहर के रोडवेज बस स्टैंड पर दो बसों के बीच फंस कर युवक की माैत हो गई। युवक अपने 7 वर्ष के पुत्र के लिए पानी लेने उतरा था। हादसे के बाद गुस्साए लोगाें ने बसों में तोड़फोड़ कर दी और बस के चालक और परिचालक की पिटाई भी कर दी। सिटी थाना पुलिस ने आक्रोशित भीड़ को तितरबितर किया तथा क्षतिग्रस्त बस को कब्जे में लेकर थाने ले आई।

    मृतक रोड़वेज बस से आमेट से अजमेर के लिए परिवार सहित यात्रा कर रहा था। वह अजमेर में अपने किसी रिश्तेदार की मौत की गमी में शामिल होने जा रहा था। जानकारी के अनुसार आमेट निवासी इरशाद पुत्र सद्दीक मोहम्मद गुरुवार को अपनी प|ी साजिदा, पुत्र जिशान तथा भतीजे वशीम व इमरान के साथ आमेट से अहमदाबाद से जयपुर के बीच चलने वाली बस से यात्रा कर रहा था। ब्यावर बस स्टैंड़ से रवाना होने के दौरान जिशान ने पानी की मांगा तो इरशाद पानी लेने के लिए नीचे उतरा। इस दौरान राजसमंद डिपो की बस स्टैंड पर गेट पर खड़ी हो गई। इरशाद पानी की बोतल भरने के बाद वापस बस स्टैण्ड़ के मुख्य गेट पर खडी बस में चढऩे के लिए आ रहा था कि इसी दौरान अजमेर की और से पाली जाने वाली बस के चालक ने तेज गति से बस को बस स्टैंड के मुख्य गेट में दाखिल कर दिया जिसके कारण इरशाद दोनों बसों के बीच में फंसकर जख्मी हो गया। यात्रियों ने घायल इरशाद को उपचार के लिए राजकीय अमृतकौर चिकित्सालय पहुंचाया जहां पर उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। पुलिस ने मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवा शव परिजनों को सौंप दिया।

    तो नहीं होता हादसा

    गौरतलब है कि ब्यावर बस स्टैंड पर दो दरवाजे बने हुए हैं। एक दरवाजा गाडियों के प्रवेश के लिए है और दूसरा बाहर निकलने के लिए। लेकिन रोडवेज प्रबंधन द्वारा अभी तक इस व्यवस्था को लागू नहीं किया है। वहीं मुख्य द्वार पर बसों को रोकने की इजाजत नहीं होने के बावजूद आए दिन बस चालक वहीं बस रोक कर सवारियां बिठाते हैं। लेकिन रोडवेज प्रबंधन द्वारा आज तक इस पर कोई कार्रवाई नहीं की गई है। अगर रोडवेज प्रबंधन सख्ती से नियमों की पालना करता तो ये हादसा नहीं होता।

    मृतक ईरशाद (फाइल फोटो)

    गुस्साए लोगों ने दोनों बसों में की तोडफाेड़, पुलिस ने दोनों बसों को किया जब्त, परिजनों ने जताया रोष, आदेशों की अवहेलना, सवारियों के लालच ने ली जान

    ब्यावर. क्षतिग्रस्त बस के कांच।

  • पानी के लिए उतरा यात्री दो बसों के बीच फंसा, अस्पताल में दम तोड़ा
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Beawar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×