--Advertisement--

लाइसेंस व आरसी बनाने वाली फर्म की अवधि तीन माह बढ़ाई

लाइसेंस व आरसी बनाने वाली फर्म का टेंडर समाप्त होने के बाद वाहन मालिकों की परेशानी व कार्यालय में कार्य का अधिक...

Dainik Bhaskar

Jun 06, 2018, 03:30 AM IST
लाइसेंस व आरसी बनाने वाली फर्म का टेंडर समाप्त होने के बाद वाहन मालिकों की परेशानी व कार्यालय में कार्य का अधिक दबाव बढ़ने की समस्या को देखते हुए परिवहन मुख्यालय ने पुरानी फर्म की समय अवधी को तीन माह तक बढ़ा दिया है। इसके बाद अब परिवहन कार्यालय जाने वाले वाहन मालिकों को लाइसेंस व आरसी लेने के लिए परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा। वहीं दूसरी ओर कार्यालय पर कार्य का अतिरिक्त भार कम होगा।

परिवहन कार्यालय के कर्मचारियों ने बताया कि लाइसेंस व आरसी बनाने वाली फर्म का ठेका 31 मई को समाप्त हो गया था। इसके बाद से लाइसेंस व आरसी किसी भी वाहन मालिक को जारी नहीं हो रही थी। जहां मुख्यालय जब तक नया टेंडर नहीं होता तब फर्म की तीन माह की अवधी को बढ़ा दिया है। यदि समय अवधी में बढ़ोतरी नहीं होती तो किसी को भी लाइसेंस व आरसी जारी नहीं होती। ऐसे में शहर के परिवहन कार्यालय में भी नया टेंडर नहीं होने तक कार्यभार भी बढ़ जाता।

फिर से शुरू हो जाएगा लाइसेंस व आरसी बनने का कार्य : लाइसेंस व आरसी बनाने वाली फर्म का टेंडर 31 मई को खत्म होने के बाद शहर के परिवहन कार्यालय में लाइसेंस व आरसी बनने का कार्य बंद हो गया था। कार्यालय में ऑनलाइन आने वाले आवेदन की ही जांच करने का कार्य किया जा रहा था, लेकिन मुख्यालय के नए आदेश के बाद अब बुधवार से कार्यालय में फिर लाइसेंस व आरसी बनने का कार्य शुरू हो जाएगा। इससे पूर्व फर्म के अंतिम दिन 80 वाहन चालकों को लाइसेंस व आरसी जारी की गई थी। वहीं कार्यालय में 40 लाइसेंस व 21 आरसी जारी करने का कार्य पेंडिग चल रहा है। वाहन चालक की ओर से ऑनलाइन आरसी व लाइसेंस के लिए आवेदन तो किया जा रहा था। लेकिन उन्हें आरसी व लाइसेंस जारी नहीं हो रही थी।

आरसी व लाइसेंस बनाने के लिए लोगों को उठानी पड़ रही थी परेशानी : कार्यालय के कर्मचारियों ने बताया कि आरसी व लाइसेंस बनाने वाली फर्म की ओर से स्मार्ट कार्ड के रूप में जारी की जाती है। लेकिन संबंधित फर्म का ठेका खत्म होने के बाद वाहन मालिकों को परेशान होना पड़ रहा था। इससे पहले हाई सिक्यूरिटी नम्बर प्लेट का टेंडर खत्म हुए 6 माह हो गया है। इस कारण नए वाहन खरीदने वाले वाहन मालिकों को नम्बर प्लेट लगाने के लिए दुकानों पर जाकर अधिक दाम देने पड़ रहे हैं।

इनका कहना है


X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..