• Home
  • Rajasthan News
  • Beawar News
  • एक करोड़ के बाद 65 लाख का बना एस्टीमेट, अब विधायक ने किया 50 लाख
--Advertisement--

एक करोड़ के बाद 65 लाख का बना एस्टीमेट, अब विधायक ने किया 50 लाख

विधायक शंकर सिंह रावत ने मंगलवार को विद्युत वितरण निगम व सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधिकारियों को लंबे समय से...

Danik Bhaskar | Jun 06, 2018, 03:30 AM IST
विधायक शंकर सिंह रावत ने मंगलवार को विद्युत वितरण निगम व सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधिकारियों को लंबे समय से अटके पड़े पोल शिफ्टिंग कार्य को लेकर जवाब मांगा। इस पर सार्वजनिक निर्माण विभाग ने तकमीना राशि अधिक होने के चलते राशि जमा नहीं कराए जाने की मजबूरी बताई। विधायक रावत ने मौके पर मौजूद विद्युत वितरण निगम के अधिशासी अभियंता को सतपुलिया व गौरव पथ विस्तारीकरण में पोल शिफ्टिंग की तकमीना राशि को 50 लाख तक करने के निर्देश दिए। वहीं सा‌र्वजनिक निर्माण विभाग के अधिकारियों को पोल शिफ्टिंग का तकमीना मिलते ही राशि जमा कराने के निर्देश दिए जिससे पोल शिफ्टिंग का कार्य जल्द से जल्द शुरू हो सके।

अजमेर रोड पर प्रस्तावित गौरव पथ व सतपुलिया विस्तार का निर्माण कार्य में रोड़ा बन रहे विद्य‌ुत पोल के शिफ्टिंग का कार्य सार्वजनिक निर्माण विभाग व विद्य‌ुत निगम के बीच समन्वय की कमी के चलते अटका है। विद्युत वितरण निगम की ओर से सार्वजनिक निर्माण विभाग को सतपुलिया व गौरव पथ विस्तारीकरण का तकमीना दो बार दिया जा चुका है।

निगम की ओर से पूर्व में तैयार किए गए लगभग एक करोड़ के तकमीने को कम कर लगभग 65 लाख कर दिया गया था। अब विधायक ने एक बार फिर से निगम को पोल शिफ्टिंग का तकमीना 50 लाख करने के निर्देश दिए हैं। शहरवासियों की ओर से भी लगातार प्रशासन से पुलिया को चौड़ा करने की मांग की जा रही थी। लोगों की मांग व जरूरत को देखते हुए विधायक शंकरसिंह रावत की अनुशंसा पर सानिवि की ओर से भिजवाए गए प्रस्ताव पर मुहर लगाते हुए राजस्थान राज्य सड़क विकास निधि प्रबंध बोर्ड की ओर से शहर में सतपुलिया विस्तार के लिए छह करोड़ की वित्तीय मंजूरी प्रदान की गई है।

विद्य‌ुत वितरण निगम के अधिकारियों के मुताबिक अजमेर रोड पर 33 व 11 केवी. की विद्य‌ुत लाइन एक साथ गुजर रही है। सार्वजनिक निर्माण विभाग की ओर से मार्ग के विस्तारीकरण के बाद पोल शिफ्टिंग होने से 33 व 11 केवी लाइन के बीच सुरक्षित दुरी नहीं रहेगी। इसी कारण निगम की ओर से अजमेर रोड स्थित निगम कार्यालय से पंडित मोटर चौराहे तक लगभग 500 मीटर तक 11 केवी विद्य‌ुत लाइन को अंडरग्राउंड किया जाएगा। अजमेर रोड पर 11 केवी विद्य‌ुत लाइन को अंडर ग्राउंड को किए जाने के कारण ही पोल शिफ्टिंग कार्य की तकमीना राशि में बढ़ोत्तरी हुई थी। मंगलवार को मौके पर विधायक शंकर सिंह रावत, कार्यवाहक उपखंड अधिकारी सुखराम खोखर, विद्युत वितरण निगम के अधिशाषी अभियंता दिनेश सिंह, सार्वजनिक निर्माण विभाग के सहायक अभियंता एस.एस.सलूजा, मदन सिंह रावत, आशीष खंडेलवाल, श्रीकांत शर्मा सहित अन्य मौजूद रहे।