• Hindi News
  • Rajasthan News
  • Beawar News
  • दहेज लिया तो नहीं मिलेगी शिक्षा विभाग में नौकरी, कर्मियों को देना होगा शपथ-पत्र
--Advertisement--

दहेज लिया तो नहीं मिलेगी शिक्षा विभाग में नौकरी, कर्मियों को देना होगा शपथ-पत्र

किसी अधिकारी या कर्मचारी ने अपनी शादी में दहेज लिया है तो उसे शिक्षा विभाग में नौकरी नहीं मिलेगी। इस संबंध में...

Dainik Bhaskar

May 14, 2018, 03:35 AM IST
किसी अधिकारी या कर्मचारी ने अपनी शादी में दहेज लिया है तो उसे शिक्षा विभाग में नौकरी नहीं मिलेगी। इस संबंध में शिक्षा विभाग ने आदेश जारी किए हैं। शिक्षा विभाग ने सभी जिला शिक्षा अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे कर्मचारियों से इस संबंध में घोषणा पत्र लें।

कर्मचारी व अधिकारी इस आशय का शपथ पत्र दें कि उन्होंने अपने विवाह में किसी प्रकार का दहेज नहीं लिया है। सरकार के आदेशानुसार अब शिक्षा विभाग में कार्यरत नवनियुक्त कर्मचारियों व अधिकारियों को दहेज नहीं लेने का प्रमाण-पत्र विभाग को जमा कराना होगा। निश्चित समय तक प्रमाण पत्र नहीं जमा कराने की स्थिति में नौकरी से हाथ धो सकेंगे।

समाज के लिए मिसाल बनंे शिक्षा िवभाग के कर्मचारी

शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने बताया कि शिक्षा विभाग के कर्मचारी समाज के लिए मिसाल बनें और लोग उनको देखकर सीखें, यही सरकार की मंशा है। नवनियुक्त कर्मचारियों व अधिकारियों के संबंध में दहेज नहीं लेने का घोषणा पत्र लेने के आदेश मिले हैं। इसे लेकर जिला, ब्लाक अधिकारियों को आदेश से अवगत करा दिया गया है।

ये हैं शिक्षा विभाग के आदेश

नवनियुक्त अधिकारियों व कर्मचारियों को यह घोषणा करनी होगी कि वह न तो दहेज लेंगे और न ही देंगे। घोषणा पत्र पर स्वयं के हस्ताक्षर करने के साथ ही उसे अपनी प|ी, ससुर व पिता के हस्ताक्षर भी कराने होंगे। शपथ पत्र में कर्मचारी की प|ी, ससुर और पिता के हस्ताक्षर न होने पर इसे मान्य नहीं किया जाएगा। इसमें अधिकारी व कर्मचारी को यह घोषणा करनी होगी कि मैंने न तो दहेज लिया है और न ही दिया है। भविष्य में दहेज लिए जाने के संबंध में मेरी प|ी या ससुराल पक्ष की ओर से कोई शिकायत विभाग या न्यायालय को की जाती है तो मेरी नियुक्ति समाप्त करने का पूर्ण अधिकार विभाग को होगा। इसमें ससुराल व पिता पक्ष की ओर से दो गवाहों के हस्ताक्षर भी करवाकर देने होंगे। विभाग ने अभी नई नियुक्ति वाले कर्मचारी और अफसरों को इसमें शामिल किया है। इसके साथ अब जो नियुक्तियां आने वाले समय में होंगी, उनसे नियुक्ति से पहले ही यह शपथ पत्र लिया जाएगा।

घोषणा पत्र नहीं देने वाले कर्मचारियों पर होगी कार्रवाई

शिक्षा विभाग में जितने भी कर्मचारी व अफसरों की नई नियुक्तियां हुई हैं, उन्हें दहेज प्रतिषेध अधिनियम 2004 के तहत यह घोषणा करनी होगी। विभाग ने उपनिदेशक व डीईओ से ऐसे कर्मचारी-अधिकारी की सूचना भी मांगी है, जो घोषणा-पत्र नहीं दे रहे हैं। इसके अलावा यह जानकारी भी मांगी है कि आगामी समय में कितने अधिकारी-कर्मचारियों से इस प्रकार का घोषणा पत्र प्राप्त कर लिया जाएगा। अगर वह निर्धारित समय में यह घोषणा विभाग को जमा नहीं कराते हैं तो उनके खिलाफ विभागीय कार्रवाई भी की जाएगी।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..