Home | Rajasthan | Beawar | लाइसेंस व आरसी बनाने वाली फर्म का टेंडर खत्म, अब वाहन मालिक होंगे परेशान

लाइसेंस व आरसी बनाने वाली फर्म का टेंडर खत्म, अब वाहन मालिक होंगे परेशान

नए वाहन मालिकों पहले ही हाई सिक्यूरिटी नम्बर प्लेट लगाने के लिए परेशान होना पड़ रहा है। अब उन्हें लाइसेंस व आरसी...

Bhaskar News Network| Last Modified - Jun 01, 2018, 03:35 AM IST

लाइसेंस व आरसी बनाने वाली फर्म का टेंडर खत्म, अब वाहन मालिक होंगे परेशान
लाइसेंस व आरसी बनाने वाली फर्म का टेंडर खत्म, अब वाहन मालिक होंगे परेशान
नए वाहन मालिकों पहले ही हाई सिक्यूरिटी नम्बर प्लेट लगाने के लिए परेशान होना पड़ रहा है। अब उन्हें लाइसेंस व आरसी बनाने के लिए भी परेशानी उठानी पड़ेगी। इसका कारण जिस फर्म को लाइसेंस व आरसी बनाने का ठेका दिया गया था। वह गुरुवार को पूरा हो चुका है। ऐसे में जब तक किसी फर्म का अब नया टेंडर नहीं होता तब तक किसी को भी लाइसेंस व आरसी जारी नहीं होगी। ऐसे में शहर के परिवहन कार्यालय में भी नया टेण्डर नहीं होने तक कार्यभार बढ़ जाएगा। कार्यालय के अधिकारियों ने बताया कि प्रदेश स्तर पर वाहनों का पंजीयन करने व चालक लाइसेंस बनाने का काम आगामी 31 मई के बाद अटक गया है। ऐसे में वाहन स्वामियों एवं लाइसेंस चाहने वालों को परेशानी का सामना करना पड़ेगा। विभाग के कर्मचारियों ने बताया कि अभी जो काम हो रहा है, वह ठेका फर्म की ओर से किया जा रहा है। जिसका समय पूरा हो चुका है, लेकिन अभी तक आला अधिकारियों से स्थानीय स्तर पर परिवहन विभाग के अधिकारियों को नए ठेका फर्म के बारे में कोई जानकारी नहीं मिल पाई है। माना जा रहा है कि प्रदेश स्तर पर अभी तक ठेका नहीं हो पाया है। ऐसी स्थिति में शुक्रवार से वाहन पंजीयन करने तथा लाइसेंस बनने का काम ठप होने वाला है। हालांकि विभाग के अधिकारियों ने कहा कि यदि ठेका नहीं हुआ तो वर्तमान में काम कर रही फर्म की समयावधि बढ़ाई जा सकती है। लेकिन अभी तक अधिकारिक तौर पर ऐसे कोई आदेश नहीं है।

अंतिम दिन बने 80 लाइसेंस व आरसी

लाइसेंस व आरसी बनाने वाली फर्म का अंतिम दिन होने के कारण परिवहन कार्यालय में कर्मचारियों व अधिकारियों ने कार्यालय में आरसी व लाइसेंस बनने के कार्य को पूर्ण करने में लगे रहे। इसी का नतीजा रहा कि 80 वाहन चालकों को लाइसेंस व आरसी जारी की गई। लेकिन अधिकारियों ने बताया कि अब भी कार्यालय में 40 लाइसेंस व 21 आरसी जारी करने का कार्य पेंडिंग है। वाहन चालक की ओर से ऑनलाइन आरसी व लाइसेंस के लिए आवेदन तो किया जा सकेगा, लेकिन उन्हें आरसी व लाइसेंस जारी नहीं हो सकेंगे।

लोगों को उठानी पड़ेगी परेशानी

आरसी व लाइसेंस बनाने वाली फर्म की ओर से स्मार्ट कार्ड के रूप में जारी की जाती थी, लेकिन अब तक नया ठेका जारी नहीं होने के कारण वाहन मालिकों को परेशान होना पड़ेगा। इससे पहले हाई सिक्यूरिटी नम्बर प्लेट का टेंडर खत्म हुए 6 माह होने वाले है। इस कारण नए वाहन खरीदने वाले वाहन मालिकों को नम्बर प्लेट लगाने के लिए दुकानों पर जाकर अधिक दाम देने पड़ रहे हैं। कर्मचारियों ने बताया कि यदि मुख्यालय की ओर से इसके लिए अब तक कोई वैकल्पिक व्यवस्था नहीं की गई तो आम जन को परेशानी उठानी पड़ेगी।

इनका कहना है

जिस फर्म का लाइसेंस व आरसी बनाने का ठेका था, उस फर्म का ठेका 31 मई तक था। जो पूरा हो चुका है, जब तक नया टेंडर नहीं होता तब तक आरसी व लाइसेंस बनने का कार्य नहीं होगा। मुख्यालय की ओर से नए आदेश के बाद ही लाइसेंस व आरसी बनने का कार्य होगा। त्रिलोकचंद मीणा, जिला परिवहन अधिकारी,ब्यावर

जिला परिवहन कार्यालय।

prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now