प्राइवेट बिल्डिंगाें में भी मतदान केंद्रों पर बनाने होंगे पक्के रैम्प / प्राइवेट बिल्डिंगाें में भी मतदान केंद्रों पर बनाने होंगे पक्के रैम्प

Beawar News - चुनाव के दौरान मतदाताओं की सुविधा के लिए बनने वाले पक्के रैम्प अब तक अधिकांश सरकारी बिल्डिंगों में ही नजर आते थे।...

Bhaskar News Network

Oct 25, 2018, 02:35 AM IST
Beawer - pvt ramps to be made at polling booths in private buildings
चुनाव के दौरान मतदाताओं की सुविधा के लिए बनने वाले पक्के रैम्प अब तक अधिकांश सरकारी बिल्डिंगों में ही नजर आते थे। मगर इस बार चुनाव आयोग की गाइड लाइन मुताबिक सरकारी बिल्डिंगों के अलावा ऐसे निजी संस्था भवन जहां मतदान केंद्र बने हैं वहां भी चुनाव से पहले पक्के रैम्प बनवाने होंगे। फिर चाहे ऐसे समाज या संस्था भवनों के मुख्यद्वार पर सीढिय़ां बनी हो या मुख्यद्वार। चुनाव की तैयारियों में जुटे निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण पदाधिकारी ने निरीक्षण के बाद संस्था प्रधानों के अलावा ऐसे निजी संस्था भवन के व्यवस्थापकों को भी नोटिस जारी कर पक्के रेम्प बनाने के लिए पाबंद किया है। बुधवार को इसी क्रम में संस्था प्रधानों समेत दो समाज भवनों के व्यवस्थापकों को भी नोटिस जारी कर पाबंद किया गया।

निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण पदाधिकारी और एसडीएम सुरेश चौधरी ने बताया कि चुनाव आयोग के निर्देशों की पालना में सभी मतदान केंद्रों पर व्यवस्था सुचारू करने के दिशा-निर्देश पूर्व में ही जारी किए जा चुके हैं। निरीक्षण में जहां कहीं भी कोई कमी नजर आती है तो संबंधित संस्था प्रधान को उसे तुरंत दुरुस्त कराने के निर्देश दे रहे हैं। जिससे मतदाताओं को मतदान के समय कोई परेशानी न हो।

इनको जारी हुए नोटिस

यदि इस कार्य में किसी ने कोताही बरती तो उसके खिलाफ कार्यवाही होगी। इस संबंध में निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण पदाधिकारी सुरेश चौधरी की ओर से बुधवार को माहेश्वरी पंचायत भवन के व्यवस्थापक को विधानसभा आम चुनाव 2018 की तैयारी के कार्यों में लापरवाही बरतने के लिए कारण बताओ नोटिस जारी किया गया। इसमें बताया गया कि उनके भवन के मतदान केंद्र संख्या 115 का निरीक्षण किया गया। इसके लिए पूर्व में भी रेम्प नहीं होने पर नोटिस दिया गया था कि आप अपने संस्थान में पक्के रेम्प का निर्माण कराएं परंतु पुन: निरीक्षण के दौरान भी पक्के रेम्प का निर्माण नहीं कराया गया। जो भारतीय निर्वाचन आयोग द्वारा घोषित राष्ट्रीय महत्व का कार्य राजस्थान विधानभा आम चुनाव 2018 के कार्यों के प्रति घोर लापरवाही की श्रेणी में आता है। इस नोटिस के प्राप्त होने के 2 दिन में आप अपना स्पष्टीकरण प्रस्तुत करें अन्यथा आपके व आपकी संस्था के खिलाफ नियमानुसार कार्यवाही की जाएगी।

इसी प्रकार अजमेरी गेट स्थित बंशी भवन के व्यवस्था को भी नोटिस जारी कर उनके भवन में संचालित होने वाले मतदान केंद्र 74 व 75 में रेम्प का निर्माण कराने के लिए पाबंद किया गया। जबकि सनातन धर्म राउमावि के संस्था प्रधान को जारी नोटिस में बताया गया कि उनके मतदान केंद्र के निरीक्षण के दौरान शौचालय गंदा, रेम्प व स्टेप टूटे हुए मिले। इसके लिए पूर्व में भी उन्हें बीएलओ के माध्यम से रेम्प बनवाने व अन्य कमियों को पूरा करने के लिए पाबंद किया गया था। इसी क्रम में बीएल गोठी पब्लिक स्कूल के व्यवस्थापक को भी जारी नोटिस में बताया गयाकि उनके यहां मतदान केंद्र संख्या 100 पर पक्का रेम्प नहीं बना है। पूर्व में भी इसके लिए नोटिस जारी किया गया मगर अब तक केंद्र पर पक्के रेम्प का निर्माण नहीं कराया गया।

पहले से ही है प्रावधान, हम तो पालना करवा रहे हैं


शाति जैन स्कूल स्थित मतदान केंद्र का निरीक्षण करते अधिकारी।

मतदान केंद्रों पर सुचारू रखनी होगी व्यवस्था

विधानसभा आम चुनाव 2018 को लेकर प्रशासन तैयारियों में जुट गया है। इसके लिए इसके लिए निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण पदाधिकारी और एसडीएम सुरेश चौधरी टीम समेत ऐसे सभी मतदान केंद्रों का निरीक्षण कर रहे हैं। इस दौरान कहीं कोई कमी दिख रही है तो संबंधित संस्था प्रधान को उसे पूरा करने के लिए पाबंद भी कर रहे हैं। निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण पदाधिकारी सुरेश चौधरी ने टीम के साथ बुधवार को भी ग्रामीण क्षेत्र के मतदान केंद्रों का निरीक्षण किया। इस दौरान जहां कहीं भी कोई कमी नजर आई तो उसे पूरा करने के लिए संबंधित संस्था प्रधान को उन्होंने दिशा-निर्देश दिए। इस दौरान नायब तहसीलदार शैलेंद्र चौधरी, चुनाव कार्यालय के गणपतसिंह रावत सहित अन्य कर्मचारी शामिल थे।

यहां किया निरीक्षण : अधिकारी ने बुधवार को रतनपुरा सरदारा, रामसर बलाईयान, रामावास, बिच्छु चौड़ा, शिवनाथपुरा, गणेशपुरा, हाउसिंग बोर्ड, नूंद्री मालदेव, सोवनिया मालीपुरा, खेड़ा देवनारायण मतदान केंद्रों का निरीक्षण किया। इस दौरान कहीं मतदान केंद्र संख्या लिखवाने तो कहीं रेम्प, रोशनी व अन्य व्यवस्था सुचारू करने संबंधी दिशा-निर्देश दिए।

राजेश कुमार शर्मा | ब्यावर

चुनाव के दौरान मतदाताओं की सुविधा के लिए बनने वाले पक्के रैम्प अब तक अधिकांश सरकारी बिल्डिंगों में ही नजर आते थे। मगर इस बार चुनाव आयोग की गाइड लाइन मुताबिक सरकारी बिल्डिंगों के अलावा ऐसे निजी संस्था भवन जहां मतदान केंद्र बने हैं वहां भी चुनाव से पहले पक्के रैम्प बनवाने होंगे। फिर चाहे ऐसे समाज या संस्था भवनों के मुख्यद्वार पर सीढिय़ां बनी हो या मुख्यद्वार। चुनाव की तैयारियों में जुटे निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण पदाधिकारी ने निरीक्षण के बाद संस्था प्रधानों के अलावा ऐसे निजी संस्था भवन के व्यवस्थापकों को भी नोटिस जारी कर पक्के रेम्प बनाने के लिए पाबंद किया है। बुधवार को इसी क्रम में संस्था प्रधानों समेत दो समाज भवनों के व्यवस्थापकों को भी नोटिस जारी कर पाबंद किया गया।

निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण पदाधिकारी और एसडीएम सुरेश चौधरी ने बताया कि चुनाव आयोग के निर्देशों की पालना में सभी मतदान केंद्रों पर व्यवस्था सुचारू करने के दिशा-निर्देश पूर्व में ही जारी किए जा चुके हैं। निरीक्षण में जहां कहीं भी कोई कमी नजर आती है तो संबंधित संस्था प्रधान को उसे तुरंत दुरुस्त कराने के निर्देश दे रहे हैं। जिससे मतदाताओं को मतदान के समय कोई परेशानी न हो।

इनको जारी हुए नोटिस

यदि इस कार्य में किसी ने कोताही बरती तो उसके खिलाफ कार्यवाही होगी। इस संबंध में निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण पदाधिकारी सुरेश चौधरी की ओर से बुधवार को माहेश्वरी पंचायत भवन के व्यवस्थापक को विधानसभा आम चुनाव 2018 की तैयारी के कार्यों में लापरवाही बरतने के लिए कारण बताओ नोटिस जारी किया गया। इसमें बताया गया कि उनके भवन के मतदान केंद्र संख्या 115 का निरीक्षण किया गया। इसके लिए पूर्व में भी रेम्प नहीं होने पर नोटिस दिया गया था कि आप अपने संस्थान में पक्के रेम्प का निर्माण कराएं परंतु पुन: निरीक्षण के दौरान भी पक्के रेम्प का निर्माण नहीं कराया गया। जो भारतीय निर्वाचन आयोग द्वारा घोषित राष्ट्रीय महत्व का कार्य राजस्थान विधानभा आम चुनाव 2018 के कार्यों के प्रति घोर लापरवाही की श्रेणी में आता है। इस नोटिस के प्राप्त होने के 2 दिन में आप अपना स्पष्टीकरण प्रस्तुत करें अन्यथा आपके व आपकी संस्था के खिलाफ नियमानुसार कार्यवाही की जाएगी।

इसी प्रकार अजमेरी गेट स्थित बंशी भवन के व्यवस्था को भी नोटिस जारी कर उनके भवन में संचालित होने वाले मतदान केंद्र 74 व 75 में रेम्प का निर्माण कराने के लिए पाबंद किया गया। जबकि सनातन धर्म राउमावि के संस्था प्रधान को जारी नोटिस में बताया गया कि उनके मतदान केंद्र के निरीक्षण के दौरान शौचालय गंदा, रेम्प व स्टेप टूटे हुए मिले। इसके लिए पूर्व में भी उन्हें बीएलओ के माध्यम से रेम्प बनवाने व अन्य कमियों को पूरा करने के लिए पाबंद किया गया था। इसी क्रम में बीएल गोठी पब्लिक स्कूल के व्यवस्थापक को भी जारी नोटिस में बताया गयाकि उनके यहां मतदान केंद्र संख्या 100 पर पक्का रेम्प नहीं बना है। पूर्व में भी इसके लिए नोटिस जारी किया गया मगर अब तक केंद्र पर पक्के रेम्प का निर्माण नहीं कराया गया।

पहले से ही है प्रावधान, हम तो पालना करवा रहे हैं


X
Beawer - pvt ramps to be made at polling booths in private buildings
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना