पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Beawer News Rajasthan News Abvp Nsui Activist Clashed After Submitting Memorandum To Principal Assembly Speaker Hemant Chotele Complaints Lodged

प्राचार्य को ज्ञापन देने के बाद भिड़े एबीवीपी-एनएसयूआई कार्यकर्ता, विधानसभा अध्यक्ष हेमंत चोटिल, शिकायतें दर्ज

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
ब्यावर. एसडी कॉलेज में एबीवीपी और एनएसयूआई कार्यकर्ताओं के बीच झगड़े के बाद परिसर में जमा भीड़। मारपीट के शिकार एनएसयूआई विधानसभा अध्यक्ष हेेमंत प्रजापति। इधर अध्यक्ष अनुप्रिया चौधरी ने प्राचार्य को सौंपा ज्ञापन।

भास्कर न्यूज|ब्यावर

सनातन धर्म राजकीय महाविद्यालय में मंगलवार को एनएसयूआई व एबीवीपी के पदाधिकारी ज्ञापन देने के बाद अापस में भिड़ गए। एबीवीपी के पदाधिकारियों ने एनएसयूआई के विधानसभा अध्यक्ष के साथ मारपीट कर दी। इससे कॉलेज में अफरा तफरी का माहौल हो गया। मारपीट की हुई घटना के बाद मौके पर पहुंची सिटी थाना पुलिस ने प्राचार्य से जानकारी प्राप्त कर जांच शुरू कर दी है।

जानकारी अनुसार एसडी काॅलेज में एबीवीपी ने फर्नीचर व्यवस्थित करवाने, पानी की टंकी को प्रति सात दिन में साफ करवाने, विज्ञान संकाय की प्रायोगिक सूचियां लगाने आदि को लेकर ज्ञापन दिया गया। ज्ञापन देने वालों में तनय कपूर, पंकर सिंह चौहान, दीपेंद्र बागड़ी, गजेंद्र रावत, सचिन सिंह, मोहित सोडा, कुशाल दगदी, दुष्यन्त रावत, परमेश्वर बालोटिया आदि उपस्थित थे। इस के बाद एनएसयूआई की छात्र संघ अध्यक्ष अनुप्रिया चौधरी ने विद्यार्थियों के साथ प्राचार्य पुखराज देपाल को ज्ञापन सौंपते हुए कॉलेज में आने वाले बाहरी विद्यार्थियों के प्रवेश पर पाबंदी लगाने की मांग की। अनुप्रिया चौधरी ने कहा कि बाहरी विद्यार्थियों के प्रवेश के कारण कॉलेज का माहौल आए दिन खराब हो रहा है। विद्यार्थियों में दहशत क माहौल व्याप्त होने लगा है। एनएसयूआई से ज्ञापन देने वालों में ब्लॉक अध्यक्ष महेन्द्र सेंगवा, दीपक वैष्णव, राकेश मेघवाल, सुनिल तेली, हेमंत जांगिड़, सचिन चौधरी, आनंद गुर्जर, अफजल खान, शहबाज खान, नरेन्द्र परिहार, सुरेश सैन आदि उपस्थित थे।

एबीवीपी व एनएसयूआई के पदाधिकारी व कार्यकर्ता आपस में भिड़े, विभिन्न मांगों को लेकर दोनों दलाें ने प्राचार्य को सौंपा ज्ञापन, मारपीट की घटना के बाद प्राचार्य ने बाहरी लोगों की रोकथाम के लिए व्याख्याताओं को किया नियुक्त
दोनों संगठनों ने परस्पर दर्ज करवाई शिकायत...

मारपीट की घटना के बाद दोनों संगठनों की ओर से परस्पर सिटी थाने में शिकायत दर्ज करवाई गई। एबीवीपी के दुष्यंत सिंह रावत की ओर से एनएसयूआई के धन्नज गौड़, हेमंत प्रजापति, अफजल खान, हेमंत जांगिड़, महेन्द्र जांगिड़, राहुल सांखला, महेन्द्र, छोटूलाल माली सहित अन्य के खिलाफ शिकायत दी है। इसी तरह हेमंत प्रजापति ने एबीवीपी के दुष्यन्त रावत, विजय सिंह चौहान, तनय कपूर, पुष्पेंद्र साहू, विनोद सामरिया, नरेश कनौजिया, वीरेंद्र सिंह रावत, ललित रावत, विजय चौहान, विकास सांचौरा, यश खंडेलवाल, गुड्डू शर्मा, पुष्पेंद्र साहू सहित 40 से 50 कार्यकर्ताओं के खिलाफ मारपीट की शिकायत दी है।

प्राचार्य कक्ष के बाहर भिड़े पदाधिकारी...
ज्ञापन देने के बाद दोनों के संगठनों के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं का जमावड़ा प्राचार्य कक्ष के बाहर हो गया। यहां एबीवीपी के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने एनएसयूआई के विधानसभा अध्यक्ष हेमंत प्रजापति से की मारपीट कर दी। हेमंत प्रजापति ने विद्यार्थियों के साथ प्राचार्य के समक्ष शिकायत देते हुए कहा कि एबीवीपी के बाहरी लोगों की ओर से आए दिन मारपीट की घटना की जाती है।

परिसर में लगे 32 कैमरे बंद, अब होगी सख्ती..

मारपीट की घटना के बाद जब एनएसयूआई के पदाधिकारियों ने कॉलेज परिसर में लगे सीसीटीवी कैमरे में मारपीट करने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की। लेकिन प्राचार्य पुखराज देपाल ने बताया कि कैमरे बंद होने के कारण मारपीट की घटना को नहीं देखा जा सका। जबकि कॉलेज प्रशासन ने पूर्व में इस प्रकार की घटना को रोकने के लिए परिसर में 1 लाख 50 हजार से अधिक रुपए खर्च कर 32 कैमरे लगाए थे। ऐसे में सवाल यह है कि जब इस प्रकार की घटनाओं की रोकथाम के लिए कैमरे लगाए गए है तो यह समय पर चालू क्यों नहीं थे। वहीं प्राचार्य पुखराज देपाल ने इस दौरान कहा कि अब बाहरी लोगों के कॉलेज में प्रवेश को बंद करने के लिए व्याख्याताओं को नियुक्त किया जाएगा। जो विद्यार्थियों के प्रवेश पत्र की जांच करने के बाद ही परिसर में प्रवेश देंगे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- अध्यात्म और धर्म-कर्म के प्रति रुचि आपके व्यवहार को और अधिक पॉजिटिव बनाएगी। आपको मीडिया या मार्केटिंग संबंधी कई महत्वपूर्ण जानकारी मिल सकती है, इसलिए किसी भी फोन कॉल को आज नजरअंदाज ना करें। ...

और पढ़ें