स्मार्ट क्लास और ई लर्निंग सॉफ्टवेयर से दक्ष होंगे कॉलेज

Beawar News - प्रदेश के सरकारी कॉलेज अब शीघ्र ही हाइटेक दिखेंगे, जहां विद्यार्थियों को स्मार्ट क्लास, ई लर्निंग सॉफ्टवेयर से...

Nov 11, 2019, 07:10 AM IST
प्रदेश के सरकारी कॉलेज अब शीघ्र ही हाइटेक दिखेंगे, जहां विद्यार्थियों को स्मार्ट क्लास, ई लर्निंग सॉफ्टवेयर से पढ़ाई और अन्य सुविधाएं मिलेगी। कॉलेज शिक्षा निदेशालय ने सभी कॉलेज प्राचार्यों को आवश्यक संसाधन बढ़ाने को कहा है। प्रदेश में करीब 200 स्नातक व स्नातकोत्तर कॉलेज है। 20 से 25 प्रतिशत कॉलेज को छोड़कर अधिकांश में स्मार्ट क्लास, डिजिटल लाइब्रेरी, परिसर में सीसीटीवी कैमरा, वाई फाई, स्मार्ट प्रयोगशाला, कम्प्यूटर, प्रोजेक्टर वाले सेमिनार कक्ष, स्वच्छ पेयजल, खेलकूद मैदान सहित अन्य संसाधन नहीं है। ऐसे में विद्यार्थियों को शैक्षिक व खेलकूद की बेहतर सुविधाएं नहीं मिल रही।

ई-कंटेंट हो रहे तैयार

शहर के सनातन धर्म राजकीय महाविद्यालय के अधिकारियों ने बताया कि कॉलेज शिक्षा निदेशालय ने सभी कॉलेज को विषयवार ऑफलाइन ई-कंटेट तैयार करने के आदेश दिए है। आयुक्त प्रदीप कुमार बोरड़ ने बताया कि प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए विद्यार्थियों की सुविधार्थ कॉलेज में निशुल्क कोचिंग कक्षाएं प्रारंभ की गई है। यह प्रतियोगिता दक्षता कक्षाएं सभी कॉलेज में लगाई जा रही है। इनके लिए ऑफलाइन ई कंटेंट तैयार कराए जा रहे है। कॉलेज विभिन्न संकाय सदस्यों से आवंटित टॉपिक पर व्याख्यान तैयार कराने के बाद निदेशालय को भेज सकेंगे।

कई जगह बदहाली

प्रदेश के अधिकांश कॉलेज में विद्यार्थियों के लिए आधारभूत सुविधाएं नहीं है। अधिकांश का कॉलेज में खेलकूद सुविधाओं पर ध्यान नहीं दिया जाता है। कई कॉलेज में खेल मैदान, स्वीमिंग पूल, बास्केटबॉल कोर्ट टूटे पड़े है।

यह जुटाने होंगे संसाधन







इनका कहना है


X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना