मदर चाइल्ड विंग की सुरक्षा और व्यवस्थाएं अब महिला कर्मचारियों के हाथों में होगी

Jan 25, 2020, 07:16 AM IST
Beawer News - rajasthan news the security and arrangements of the mother child wing will now be in the hands of women employees



राजकीय अमृतकौर अस्पताल के मदर चाइल्ड विंग की सुरक्षा और व्यवस्थाएं एक बार फिर से अब महिला कर्मचारियों के हाथों में होगी। इसके लिए एमसीएच विंग में 5 महिला सुरक्षा गार्ड, 5 ट्रॉली वुमन के साथ ही 5 महिला हेल्पर को भी लगाने के प्रस्ताव का स्वीकृति मिल चुकी है।

इसके साथ ही अस्पताल की पुरानी जर्जर बिल्डिंग के रिनोवेशन के लिए भी प्रस्ताव बनाकर एनएचएम को भिजवा दिया गया है। जल्द ही पुरानी बिल्डिंग की दशा सुधारने के लिए कार्य शुरू कर दिया जाएगा। इसके साथ ही अस्पताल के स्टॉफ के लिए संचलित हैल्थ क्लब की सुविधाओं में विस्तार करते हुए लाइब्रेरी के प्रस्ताव पर भी सहमति आ गई है। गौरतलब है कि गत माह एकेएच में एमआरएस की मीटिंग में अस्पताल की विकास और मरीजों की सुविधाओं में इजाफा करने के मकसद से कई प्रस्तावों पर चर्चा के बाद सहमति बनी थी।

मीटिंग में जिन प्रस्तावों पर सहमति बनी उन्हें स्वीकृति के लिए जेडी के पास भेजा गया था। जहां से आवश्यक औपचारिकता के बाद इन प्रस्तावों पर सहमति मिल गई। कुछ प्रस्तावों को अगली मीटिंग में लेने तथा कुछ पर बाद में निर्णय लिया जाएगा। मीटिंग के दौरान एमआरएस संविदा कर्मियों के मानदेय में 5 प्रतिशत वृद्धि करने, मदर चाइल्ड विंग में सेवाप्रदाता कंपनी से 5 सुरक्षा गार्ड, 5 हैल्पर, 1 प्लंबर को लगाने, अस्पताल में स्टॉफ के लिए हैल्थ क्लब, लाइब्रेरी बनाने, एमसीएच विंग के 250 केवीए जनरेटर से मुख्य भवन की बिजली व्यवस्था जोड़ने के लिए केबल डालने, डॉक्टरों को कॉल पर और शिविरों में जाने के लिए एक वाहन का क्रय करने, अस्पताल के भवन का रिनोवेशन करवाने, अस्पताल की बाउंड्रीवॉल बनवाने, काऊ कैचर लगवाने, अग्निशमन मोटर की रिपेयर करवाने, फर्नीचर के रिपेयर, बार कोड से बायोमेडिकल वेस्ट कार्यक्रम के लिए आवश्यक उपकरण खरीदने समेत अन्य महत्वपूर्ण मुद्दों पर प्रस्ताव बनाकर लिया गया था। इनमें से अधिकतर प्रस्तावों पर जेडी कार्यालय से सहमति मिल चुकी है।

काऊ कैचर लगेगा

अस्पताल की मुख्य बिल्डिंग में आवारा जानवरों के प्रवेश को रोकने के लिए अस्पताल परिसर के प्रवेश द्वार पर काऊ कैचर लगाने के प्रस्ताव को भी सहमति मिल चुकी है। अस्पताल प्रबंधन ने इसके लिए निविदा भी निकाल दी है अौर जल्द ही इसका कार्य भी शुरू कर दिया जाएगा। इसके साथ ही पीएमओ कार्यालय के समीप एक कमरा बनाने तथा ब्लड बैंक के समीप एक अन्य कमरे को लेकर पीडब्ल्यूडी के पास भिजवाया गया है जहां से सर्वे के बाद आगे की कार्रवाई शुरू की जाएगी।

एकेएच
हैल्थ क्लब में बनेगी लाइब्रेरी

राजकीय अस्पतालों में चिकित्सा सुविधाओं को बेहतर बनाने के मकसद से केंद्र सरकार के निर्देश पर कायाकल्प और क्वालिटी एश्योरेंस योजना चला रही है। इस योजना के तहत एकेएच लगातार तीन साल तक तीसरे तथा गत वर्ष दूसरे पायदान पर रहा। योजना के तहत एकेएच को सार्टिफिकेट के साथ 20 लाख का नगद पुरस्कार भी दिया गया। नियमों के अनुसार इस राशि का 75 प्रतिशत अस्पतालों में मरीजों को बेहतर संसाधन उपलब्ध करवाने पर खर्च करने है। एमआरएस द्वारा लिए गए निर्णय के अनुसार कायाकल्प योजना के तहत जीती गई राशि में से 50 हजार रुपए से हैल्थ क्लब का विस्तार किया जाएगा और लाइब्रेरी तैयार की जाएगी। अस्पताल प्रबंधन की योजना के अनुसार इस क्लब में मेडिटेशन कक्ष भी बनाया जाएगा। जिसमें तनाव दूर करने के लिए ध्यान एवं याेग का प्रशिक्षण दिया जाएगा। इसके साथ ही क्लब में टेबल टेनिस और स्नूकर की सुविधा के साथ ही रीडिंग रूम बनाया जाएगा।

X
Beawer News - rajasthan news the security and arrangements of the mother child wing will now be in the hands of women employees
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना