• Home
  • Rajasthan News
  • Begu News
  • छह माह शयन के बाद खुले लक्ष्मीदेवी मंदिर के द्वार
--Advertisement--

छह माह शयन के बाद खुले लक्ष्मीदेवी मंदिर के द्वार

बेगूं. वर्ष में दो बार दर्शन होते हैं लक्ष्मी देवी मंदिर में। छह माह बाद देवी मंदिर के द्वार खुले तो शनिवार को धन...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 02:25 AM IST
बेगूं. वर्ष में दो बार दर्शन होते हैं लक्ष्मी देवी मंदिर में। छह माह बाद देवी मंदिर के द्वार खुले तो शनिवार को धन बंटा। देवी की कृपा के रूप में बरसे धन व दर्शन के लिए बानोड़ा बालाजी में श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ा। बेगूं तहसील के बानोड़ा बालाजी में गत 14 वर्ष से श्रीराम महायज्ञ का आयोजन चल रहा है। बानोड़ा बालाजी के दर्शनों की भीड़ लगी है। वहीं शनिवार को छह माह बाद शयन कर उठी देवी लक्ष्मी के द्वार खुले। प्रथम मंजिल पर स्थित लक्ष्मीदेवी के मंदिर के शरद पूर्णिमा व हनुमान जयंती वर्ष में दो दिन ही दर्शन होते है। शनिवार को हनुमान जयंती पर लक्ष्मीदेवी मां के दर्शन के लिए मंदिर के परिक्रमा मंडप में श्रद्धालुओं की कतारे लगी थी। कड़कड़ाती धूप में श्रद्धालु अपनी बारी की इंतजार में घंटों खड़े रहे। दिन में दो बजे से मंदिर के द्वार खुले और पुजारियों ने दर्शकों को देवी की कृपा स्वरूप रुपए-पैसे, पुष्प, प्रसाद का वितरण किया।

वर्ष में दो बार ही होते हैं दर्शन, बंटता है धन