पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Neemrana News Rajasthan News 17 Crore Cheated By Booking Flats Under Chief Minister Jan Awaas Yojana Arrested From Director Of Company Gurugram

मुख्यमंत्री जन आवास योजना में फ्लैट्स की बुकिंग कर ~17 करोड़ ठगे, कंपनी की निदेशक गुरुग्राम से गिरफ्तार

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

राजस्थान सरकार के उपक्रम रीको से मिलते-जुलते नाम वाली कम्पनी बना मुख्यमंत्री जन आवास योजना में फ्लैट की बुकिंग कर लोगों से 17 करोड़ रुपए ठगने के मामले में एक महिला को गिरफ्तार किया है। बिल्डर कंपनी की निदेशक इस महिला को गुरुग्राम से गिरफ्तार किया गया। जबकि मुख्य आरोपी उसका पति फरार है। पुलिस ने शनिवार को आरोपी निधि अरोड़ा को एसीजेएम नम्बर 2 बहरोड की कोर्ट में पेश किया। जहां से उसे तीन दिन के रिमांड पर पुलिस को सौंप दिया गया। थानाधिकारी हरदयाल सिंह यादव ने बताया कि गिरफ्तार ठगी की आरोपी महिला निधि अरोड़ा व उसके पति चंद्रप्रकाश उर्फ रवि अरोड़ा ने सरकारी उपक्रम रीको का भ्रम देने वाले नाम ‘मैसर्स रीको डेवलपर आनंदम होम्स प्राइवेट लिमिटेड’ कंपनी बनाई। दोनों इसमें निदेशक बन गए। आरोपियों ने नीमराना में निर्यात संवर्धन पार्क से सटे मोहलडिया गांव में आनंदम होम्स हाउसिंग प्रोजेक्ट शुरु किया। इसमें मुख्यमंत्री जन आवास योजना के तहत फ्लैट बनाकर देने का सपना दिखाया और करीब 800 फ्लैट्स की बुकिंग कर 17 करोड़ वसूल लिए। लोगों को आवंटन पत्र भी दिए लेकिन उक्त भूमि पर फ्लैट नहीं बनाए। लोगों को जब फ्लैट नहीं मिले तो उन्होंने मैसर्स रीको डेवलपर प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक चंद्रप्रकाश उर्फ रवि अरोड़ा एवं उसकी प|ी निधि अरोड़ा के खिलाफ नीमराना पुलिस थाने में धोखाधड़ी के मामले दर्ज कराए। आरोपियों की तलाश में पुलिस ने हरियाणा के गुरुग्राम स्थित मिलेनियम रेजिडेंसी सेक्टर 47 पर दबिश दी। यहां से कंपनी की निदेशक निधि अरोड़ा को गिरफ्तार कर लिया गया। जबकि उसका पति रवि अरोड़ा फरार हो गया। डीएसपी नवाब खां ने बताया कि चंद्रप्रकाश अरोड़ा को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

जिनसे जमीन ली, उन्होंने कराया मामला दर्ज : गौरतलब है कि इस मामले भूमि धारक रंगाराव यादव उर्फ गिल्लू एवं उसके भाई ने रीको डेवलपर्स आनंदम होम्स हाउसिंग सोसायटी के दोनों निदेशकों के खिलाफ पुलिस थाने में धोखाधड़ी के मामले दर्ज करा चुके हैं। मामले में राजेश गुप्ता निवासी बीच का मोहल्ला मुंडावर ने दोनों के खिलाफ 3 दिसंबर 2018 को पुलिस थाने में 60 अन्य फरियादियों के साथ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया था। दोनों के खिलाफ भूमिधारकों एवं अन्य फ्लैट लेने वालों में भी अलग से मामले दर्ज करा रखे हैं।

खबरें और भी हैं...