Hindi News »Rajasthan »Bhadra» दवा स्टोरेज के लिए बनाया 50 लाख से हॉल, 5 विधायकों से लिए 10-10 लाख, लोकार्पण मेंं 4 को बुलाया ही नहीं

दवा स्टोरेज के लिए बनाया 50 लाख से हॉल, 5 विधायकों से लिए 10-10 लाख, लोकार्पण मेंं 4 को बुलाया ही नहीं

जिला अस्पताल में शनिवार को एक साथ तीन योजनाओं का जलसंसाधन मंत्री डॉ. रामप्रताप ने लोकार्पण किया। खास बात रही कि...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 04, 2018, 07:40 AM IST

दवा स्टोरेज के लिए बनाया 50 लाख से हॉल, 5 विधायकों से लिए 10-10 लाख, लोकार्पण मेंं 4 को बुलाया ही नहीं
जिला अस्पताल में शनिवार को एक साथ तीन योजनाओं का जलसंसाधन मंत्री डॉ. रामप्रताप ने लोकार्पण किया। खास बात रही कि विधायक कोटे से निर्मित दवा हॉल निर्माण के लिए जिले के पांचों विधायकों से दस-दस लाख रुपए लिए गए थे लेकिन लोकार्पण अवसर पर विधायकों को बुलाया ही नहीं गया। इसको लेकर विधायकों से बात की गई तो उनका कहना था कि उनको कार्यक्रम की सूचना ही नहीं दी गई। वहीं अस्पताल प्रशासन का कहना है कि लोकार्पण का कार्यक्रम अचानक बन गया जिस कारण जनप्रतिनिधियों को नहीं बुला पाए। लोकार्पण अवसर पर जलसंसाधन मंत्री डॉ. रामप्रताप ने कहा कि भाजपा सरकार ने चिकित्सा सुविधाओं का विस्तार किया है। गंभीर रोगियों को हायर सेंटर रेफर करने के लिए सरकार ने जिला अस्पताल में एडवांस लाइफ स्पॉट एंबुलेंस उपलब्ध कराई है। वहीं किडनी रोगियों को राहत पहुंचाने के लिए पीपीपी मोड पर हीमो डायलिसिस यूनिट की स्थापना की गई है। यह सुविधा उपलब्ध करवाने वाला हनुमानगढ़ जिला अस्पताल प्रदेश के चुनिंदा जिला अस्पतालों में शामिल है। उन्होंने निरीक्षण के दौरान जिला अस्पताल की छत में सीलन के कारण बिल्डिंग को हो रहे नुकसान से बचाव के लिए पीडब्ल्यूडी एईएन अनिल अग्रवाल को निर्देशित किया। इस मौके पर उपनियंत्रक डॉ. दीपक सैनी ने कहा कि दवा काउंटर एक ही जगह स्थापित होने से दवाओं के लिए मरीजों को इधर-उधर नहीं भटकना पड़ेगा। पीएमओ डॉ. नजेंद्रसिंह शेखावत ने कहा कि पीपीपी मोड पर संचालित हीमो डायलिसिस सेंटर में वर्तमान में दो मशीनें हैं। जल्द ही अनुबंधित कंपनी की ओर मशीनों की संख्या बढ़ाकर छह की जाएगी जिससे कि अधिकाधिक रोगियों को फायदा मिल सके। इस मौके पर सभापति राजकुमार हिसारिया, भाजपा जिलाध्यक्ष बलवीर बिश्नोई, उपसभापति नगीना बाई, पूर्व पालिकाध्यक्ष अमरसिंह राठौड़, पार्षद सेवाराम नागर, राजेश पंवार, विनोद वर्मा, महिला मोर्चा नगर मंडल अध्यक्ष शिमला मेहंदीरत्ता, जसपालसिंह, डॉ. एचपी रोहिल्ला, शंकर सोनी, अमृतपाल सिंह, नर्सिंग अधीक्षक सुनील बहल, फार्मासिस्ट नीरज कौशल,ब्लड बैंक प्रभारी राजेंद्र स्वामी आदि मौजूद थे।

इन तीन योजनाओं का मंत्री से पहले जनता ने किया लोकार्पण

1.हीमोडायलिसिस यूनिट: जिला अस्पताल में पिछले एक साल से पीपीपी मोड में उलझी हीमो डायलिसिस यूनिट का तीन दिन पहले पुरानी एसएनसीयू यूनिट की जगह पर संचालन शुरू कर दिया गया। इसमें दो रोगियों की डायलिसिस भी की गई। जलसंसाधन मंत्री ने इस यूनिट का शनिवार को लोकार्पण किया। इसका संचालन किया जाएगा।

फायदा: बीपीएल, महिला, सीनियर सिटीजन, लावारिस, कैदी, आस्था कार्ड धारी रोगियों को हीमो डायलिसिस की सुविधा निशुल्क दी जाएगी। वहीं एपीएल रोगियों से 1080 रुपए चुकाने होंगे। अधिकारियों के मुताबिक प्राइवेट अस्पतालों में डायलिसिस पर तीन से चार हजार रुपए खर्च आता है। गत वर्ष करीब 20 लाख रुपए कीमत के दो हीमो डायलिसिस मशीनें सहित अन्य उपकरण आए थे जिनका अब यूनिट शुरू होने से उपकरणों का उपयोग में लेना शुरू हो गया है।

हनुमानगढ़. जिला अस्पताल में एडवांस लाइफ स्पॉट एंबुलेंस को रवाना एवं हीमो डायलिसिस यूनिट का लोकार्पण करते मंत्री रामप्रताप।

विधायक बोले| सूचना होती तो जरूर आते

भादरा विधायक संजीव बेनीवाल का कहना है कि दवा काउंटर हॉल निर्माण के लिए दस लाख रुपए विधायक कोटे से स्वीकृत किए थे। लोकार्पण कार्यक्रम में जिला अस्पताल प्रशासन की ओर से कोई सूचना नहीं दी गई। मुझे सूचना मिलती तो कार्यक्रम में शामिल होने के लिए जरूर आता।

संगरिया विधायक कृष्ण कड़वा का कहना है कि रोगी सुविधा विस्तार के लिए विधायक कोटे से दस लाख रुपए दिए थे। अस्पताल प्रशासन की ओर से लोकार्पण कार्यक्रम में आमंत्रित नहीं किया गया। इस कारण कार्यक्रम में नहीं आ पाए।

2. जिला अस्पताल में 50 लाख रुपए की लागत से दवा काउंटर पीडब्ल्यूडी की ओर से इसका निर्माण कराकर करीब ढ़ाई माह पहले हैंडओवर कर दिया गया। गत माह इसमें दवा काउंटरों को शिफ्ट किया गया।

फायदा: योजना के तहत दवा काउंटर एक जगह पर शिफ्ट होने से रोगियों को बड़ी राहत मिलेगी। जिला अस्पताल में छह दवा काउंटर है और सभी अलग-अलग जगह पर संचालित थे। इससे रोगी को एक काउंटर पर दवा नहीं मिलने पर दूसरे से तीसरे काउंटर पर जाने से परेशानी होती थी। इससे रोगियों व उनके परिजनों को अनावश्यक परेशानी का सामना करना पड़ता था।

3. एडवांस लाइफ स्पोर्ट एंबुलेंस: गंभीर रोगियों को हायर सेंटर रेफर करने में जीवन रक्षा के लिए जरूरी उपकरणों से लैस एडवांस लाइफ स्पॉट एंबुलेंस जिला अस्पताल में पहले पहुंची। करीब तीन माह पहले इसका संचालन शुरू कर दिया गया। खास बात है कि अत्याधुनिक उपकरणों से लैस एंबुलेंस में दो पायलट और दो नर्सिंगकर्मी हर समय उपलब्ध रहते हैं। एक तरह से इसमें मोबाइल वेंटीलेटर यूनिट की सुविधाएं उपलब्ध हैं। करीब 22 लाख रुपए कीमत की यह अत्याधुनिक एंबुलेंस सरकार ने प्रदेश में विभिन्न जिला अस्पतालों में उपलब्ध कराई हैं।

फायदा: हैड इंजरी, डिलीवरी के गंभीर मामले और दुर्घटना के ऐसे मामले जिसमें मरीज को तत्काल जयपुर या बीकानेर रेफर करना जरूरी है उन्हें इस एंबुलेंस से भेजा जा रहा है। अत्याधुनिक एंबुलेंस से रोगियों राहत मिली है। इसमें ऑक्सीजन, वेंटीलेटर, ऑटोमेटेड डिफेबेरीलेटर, मल्टी पैरा मॉनीटर, पिटल डॉप्लर, ईसीजी, ब्लड, हार्ट बीट मापने के लिए अत्याधुनिक उपकरण सहित कई प्रकार के उपकरण हैं।

पीएमओ बोले

अचानक बना कार्यक्रम

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Bhadra News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: दवा स्टोरेज के लिए बनाया 50 लाख से हॉल, 5 विधायकों से लिए 10-10 लाख, लोकार्पण मेंं 4 को बुलाया ही नहीं
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Bhadra

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×