Hindi News »Rajasthan »Bhadra» कॉलेज भवन स्थानांतरण को लेकर हंगामा, विधायक के आश्वासन पर शांत हुए, एमओयू कल तैयार होगा

कॉलेज भवन स्थानांतरण को लेकर हंगामा, विधायक के आश्वासन पर शांत हुए, एमओयू कल तैयार होगा

भादरा| भादरा में नए सरकारी कॉलेज की शुरुआत बुधवार को सरकारी उमा स्कूल के खाली पड़े भवन में हो गई। वहीं बुधवार को...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 14, 2018, 03:20 AM IST

भादरा| भादरा में नए सरकारी कॉलेज की शुरुआत बुधवार को सरकारी उमा स्कूल के खाली पड़े भवन में हो गई। वहीं बुधवार को कॉलेज के नए कार्यवाहक प्राचार्य ने जब कार्यभार संभाल तो स्कूल भवन स्थानांतरण को लेकर हंगामे की स्थित बन गई। सरकारी स्कूल के प्रधानाचार्य समेत कस्बे कई लोग व विद्यालय विकास कमेटी के सदस्य इस बात एतराज कर रहे थे जब तक समझौता ज्ञापन (एमओयू) तैयार नहीं हो जाता तब तक वे स्कूल बिल्डिंग सरकारी स्कूल को नहीं सौंपेंगे। इस पर तहसीलदार कार्यालय में भारतीय जनता युवा मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष अशोक सैनी समेत कई लोगों ने समझौता ज्ञापन (एमओयू) तैयार किए बगैर बिल्डिंग सौंपने पर कड़ा ऐतराज जताया। कुछ ही देर में यह वार्ता हंगामे में बदल गई। आखिर में विधायक संजीव बेनीवाल ने आश्वासन दिया कि समझौता ज्ञापन एक-दो दिन में तैयार हो जाएगा। जब तक सरकारी कॉलेज की नई बिल्डिंग नहीं बन जाती तब तक यह कॉलेज राउमावि भवन में चलाया जाएगा और इसके बाद यह कॉलेज नए भवन में स्थानांतरित कर दिया जाएगा और स्कूल भवन वापस राउमावि को सौंप दिया जाएगा। इसके बाद कार्यवाहक प्राचार्य महेश सुखीजा ने पदभार संभाला। विधायक ने प्राचार्य को पदभार ग्रहण करवाया। भादरा में यह राजकीय कॉलेज अस्थाई तौर पर राउमावि भादरा के भाग नं. दो के खाली पड़े परिसर में शुरू किया गया है। प्रधानाचार्य महेश सुखीजा ने बताया कि कॉलेज में प्रवेश प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। इस मौके पर तहसीलदार संदीप चौधरी, पृथ्वीराज जाखड़, प्राचार्य एवं डॉ. बीएल पारीक, राउमावि के प्रधानाचार्य डॉ. चंद्रप्रकाश त्रिवेदी, कॉलेज व्याख्याता डॉ. हरीश सबलानियां आदि मौजूद थे।

शिवशंकर गोल्याण ने बताया कि राजकीय उमावि स्कूल प्रशासन विद्यालय विकास कमेटी को भ्रम हो गया था परंतु उनका स्कूल की बिल्डिंग पर अतिक्रमण करने का कोई इरादा नहीं था और ना ही है। उनके पूर्वजों द्वारा दान में दी गई भूमि पर अतिक्रमण करने का हम सोच भी नहीं सकते बल्कि उस पर तो कॉलेज के लिए कुछ अतिरिक्त बनाने का इरादा था जिससे उनके पूर्वजों का नाम चलता रहे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bhadra

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×