--Advertisement--

जीएसटी : पहले दिन केवल 6 इंटर स्टेट ई-वे बिल कटे

भरतपुर| अन्य स्टेट से 50 हजार रुपए से अधिक का माल खरीदने व बेचने के लिए अब ई-वे बिल साथ रखना होगा, अन्यथा जुर्माना...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 04:35 AM IST
भरतपुर| अन्य स्टेट से 50 हजार रुपए से अधिक का माल खरीदने व बेचने के लिए अब ई-वे बिल साथ रखना होगा, अन्यथा जुर्माना लगेगा। यह व्यवस्था जीएसटी ने कर चोरी रोकने के लिए की है। इसलिए टैक्स फ्री आइटम पर ई वे बिल लागू नहीं होगा। प्रदेश में यह व्यवस्था शनिवार रात से प्रारंभ हो गई है। पहले दिन छह इंटर स्टेट ई-वे बिल कटे। सीए भरतपुर ब्रांच के अध्यक्ष सीए विनय गर्ग ने बताया कि बिल की 3 काॅपी तैयार की जाएंगी, जिसमें एक खरीददार, दूसरी विक्रेता तथा तीसरी ट्रांसपोर्टर को देनी होगी। ई-वे बिल के बिना अगर कोई भी माल परिवहन करते पाया गया तो वाणिज्यकर विभाग जुर्माना, जब्ती और ब्याज की कार्रवाई कर सकता है। अगर किसी कारणवश व्यापारी एक ई-वे बिल की वैधता तक दी गई दूरी नहीं तय कर पाता तो उसके पास ई-वे बिल फिर से इश्यू कराने का विकल्प रहेगा। वह अगर दूसरी गाड़ी से माल लाता है तो भी ई-वे बिल लेना होगा। अन्यथा पेनल्टी लगेगी।

उल्लेखनीय है कि जिले में सरसों तेल, स्टोन और क्रशर गिट्टी का बड़े पैमाने पर कारोबार होता है और 95 प्रतिशत तक उत्पादन अन्य स्टेट यानी दिल्ली, हरियाणा, उत्तरप्रदेश, बिहारी, बंगाल, उड़ीसा आदि इलाकों में सप्लाई किया जाता है। साथ ही अधिकांश वस्तुओं की खरीद आगरा और दिल्ली से होती है।